नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में कर्मियों ने संविधान-दिवस की शपथ ली

Nov 26, 2020 18:41 | Poltics

झाकड़ी 26 नवम्बर, 2020 
भारतीय गणराज्य का संविधान 26 नवम्बर, 1949 को बनकर तैयार हुआ था । भारतीय संविधान के जनक डॉ0 भीमराव अम्बेडकर ने इसका प्रारूप तैयार कर भारतीय संविधान को एक नए शिखर तक ले जाने पर महत्वपूर्ण योगदान दिया । तत्पश्चात डॉ0 भीमराव अम्बेडकर के 125वें जयन्ती वर्ष के रूप में 26 नवम्बर, 2015 से संविधान दिवस के रूप में मनाया गया । संविधान सभा ने भारत के संविधान को 2 वर्ष 11 माह 18 दिन में 26 नवम्बर, 1949 को पूरा कर राष्ट्र को समर्पित किया । दरअसल यही वह दिन है, जब गुलामी की जंजीरों से आजाद होकर अपने स्वतंत्र अस्तित्व को आकार देने का प्रयास कर रहे राष्ट्र ने इस संविधान को अंगीगार किया था और पूर्णतयः गणतंत्र भारत में 26 जनवरी 1950 से इस संविधान को अमल में लाया गया ।     भारत सरकार के निर्देशानुसार एवं भारतीय संविधान की गरिमा को बनाए रखने हेतु आज दिनांक 26 नवम्बर, 2020 को नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में माननीय राष्ट्रपति रामनाथ कोविंड द्वारा लाईव प्रसारण के माध्यम से दिलायी गयी संविधान-शपथ को प्रशासनिक भवन के “सभागार” में कर्मचारियों व अधिकारियों ने अपने-अपने स्थान पर खड़े हो कर लिया ।