अनुशासन का मानव जीवन में बहुत महत्व , उप-मुख्यमंत्री ने 10 दिवसीय एनसीसी कैंप का किया समापन

अनुशासन का मानव जीवन में बहुत महत्व , उप-मुख्यमंत्री ने 10 दिवसीय एनसीसी कैंप का किया समापन

अनुशासन का मानव जीवन में बहुत महत्व

उप-मुख्यमंत्री ने 10 दिवसीय एनसीसी कैंप का किया समापन

नाहन 29 दिसम्बर। अनुशासन का मानव जीवन में बहुत महत्व है। अनुशासन के बिना व्यक्ति लक्ष्य हासिल नहीं कर सकता, इसलिए विद्यार्थी को सफल जीवन के लिए कड़ी मेहनत, दृढ़ संकल्प के साथ-साथ अनुशासन में रहकर कार्य करना चाहिए। यह उद्गार उप-मुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने शुक्रवार को कालाअंब में प्रथम हिमाचल प्रदेश बालिका बटालियन एन.सी.सी. सोलन द्वारा प्रदेश की 569 एन.सी.सी. कैडेट्स के 21 दिसंबर से शुरू हुए 10 दिवसीय कैंप के समापन अवसर पर व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि एन.सी.सी. विद्यार्थी में अनुशासन और राष्ट्र भक्ति की भावना पैदा करती है। उन्होंने कहा कि कैडेट्स ने जो भी यहां सीखा उसे अपने जीवन में जरूर अपनाएं।

उन्होंने कहा कि सर्वोपरि राष्ट्र है, एन.सी.सी. यही सिखाती है। प्रशिक्षण में कैडेट्स को अच्छे संस्कार मिलते हैं। उन्होंने युवाओं से नशे से दूर रहने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि नशामुक्त हिमाचल हो इसके लिए नशे के कारोबारियों को नहीं बक्शा जाएगा। प्रदेश सरकार भावी पीढ़ी के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए कड़े कदम उठा रही है।

उन्होंने कहा कि आपदा के दौरान प्रदेश में 12 हजार करोड़ रूपये का नुक्सान हुआ है। प्रदेश सरकार आपदा प्रभावित परिवारों को राहत राशि प्रदान कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार बेसहारों का सहारा है। सुख आश्रय योजना के माध्यम से 4 हजार बच्चों को हर महीने 4 हजार रुपये प्रति बच्चे के हिसाब से दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 1.36 लाख कर्मचारियों को ओ.पी.एस. बहाल कर दी गई है, जिससे वह सेवानिवृत होने के बाद पूरी प्रतिष्ठा व सम्मान के साथ जीवन यापन कर सकेंगे।

स्वास्थ्य मंत्री कर्नल डॉ. धनीराम शांडिल ने कहा कि राष्ट्र निर्माण में दो घटक एकता और अनुशासन महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। एन.सी.सी. पाठ्यक्रम में भी शामिल होनी चाहिए ताकि विद्यार्थियों को देश की आजादी कैसी मिली है, का बोध हो सके। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षित युवा पीढ़ी की आपदा के दौरान जन सेवा में सेवाएं ली जा सकती हैं। इसके लिए स्कूली स्तर पर बच्चों को एन.सी.सी. के प्रशिक्षण शिविर आयोजित करने पर जोर दिया।

उप-मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री ने विभिन्न गतिविधियों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कैडेट्स को सम्मानित किया।

वन एच पी गर्ल्स बटालियन एन. सी. सी. सोलन के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल संजय शांडिल ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा कैंप के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि 21 दिसंबर से आरम्भ हुए इस कैंप में हिमाचल प्रदेश के विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों के 569 एन. सी. सी. केडिट्स ने भाग लिया।

उन्होंने ने बताया कि इन शिविरों का उद्देश्य छात्राओं में अनुशासन, नेतृत्व और राष्ट्रीय एकता की भावना को बढ़ावा देना है। उन्होंने बताया कि शिविर के दौरान छात्राओं को विभिन्न सैन्य अभ्यासों, फिजिकल सक्टिविटीज़ और नैतिक मूल्यों पर आधारित प्रशिक्षण कार्यक्रमों की जानकारी दी गई। इसके अतिरिक्त जिन कैडेट्स ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में शानदार प्रदर्शन किया उन्हें सैन्य तैयारी, शूटिंग, ड्रील, ग्रुप डिस्कशन के बारे में भी बताया गया।

उन्होंने बताया कि कैंप के दौरान कैडेट्स के लिए खेल गतिविधियां, सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया गया। इसके अतिरिक्त उन्हें 1971 के युद्ध पर आधारित फिल्म “पीपा“ दिखाई गई जिससे मनोरंजन के साथ-साथ उनमें देश भक्ति की भावना भी जागृत हो सके। इस मौके पर एन.सी.सी. कैडेट्स ने विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए।

 

Related post

कांग्रेस षड्यंत्रकारी पार्टी और सरकार : बिंदल

कांग्रेस षड्यंत्रकारी पार्टी और सरकार : बिंदल

कांग्रेस षड्यंत्रकारी पार्टी और सरकार : बिंदल सिरमौर, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए…
मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा, अबकी बार- 400 पार: अनुराग ठाकुर

मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा, अबकी बार-…

मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा, अबकी बार- 400 पार: अनुराग ठाकुर किसानों के लिए जो आज तक कोई सरकार…
केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह द्वारा मध्य प्रदेश के खजुराहो में ‘बूथ समिति सम्मेलन’ में दिए गए भाषण के मुख्य बिंदु

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह द्वारा…

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह द्वारा मध्य प्रदेश के खजुराहो में ‘बूथ समिति सम्मेलन’ में दिए गए भाषण…

Leave a Reply

Your email address will not be published.