हिमाचल प्रदेश में राज नहीं, रिवाज बदल रही है, जगत प्रकाश नड्डा

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा द्वारा रामपुर (शिमला), कोटखाई और रोहडू आयोजित विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश की जनता ने कांग्रेस और राजनीतिक पर्यटन पर आई आम आदमी पार्टी को स्पष्ट संदेश दे दिया है कि हिमाचल प्रदेश में राज नहीं, रिवाज बदल रहा है और आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में हर जगह कमल ही कमल खिल रहा है।

पहली बार किसी राजनीतिक पार्टी ने हिमाचल प्रदेश में नारी सशक्तिकरण के लिए अलग से स्त्री शक्ति संकल्प पत्र जारी किया है क्योंकि हमारा स्पष्ट मानना है कि जब तक महिलाओं का सशक्तिकरण नहीं होगा, तब तक किसी समाज के या किसी राज्य अथवा देश के विकास की कल्पना नहीं की जा सकती।

विपक्ष हर बार हिमाचल प्रदेश में झूठे वादों के सहारे चुनाव को उलझाने और मतदाताओं को भटकाने की साजिश करता है लेकिन भारतीय जनता पार्टी सदैव विकास की बात करती है, हिमाचल प्रदेश को आगे ले जाने की बात करती है। भाजपा जो कहती है, कर के दिखाती है।

चाहे केंद्र में हो या राज्य में, कांग्रेस ने हमेशा एक परिवार के नाम पर वोट माँगा है। कांग्रेस की यही मानसिकता ही बताती है कि उनका खड़ा प्रत्याशी वैशाखियों पर खड़ा है।

जनता ने हाल ही में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर और असम में भी रिवाज बदला है। अब रिवाज बदलने की बारी हिमाचल प्रदेश की है। आम आदमी पार्टी यहाँ 67 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और सभी की सभी सीटों पर उनकी उमीदवारों का जमानत जब्त होना तय है।

हिमाचल में हमारी सरकार बनने पर छठी से बारहवीं तक पढ़ने वाली बेटियों को साइकिल और बारहवीं से ऊपर पढ़ने वाली बेटियों को स्कूटी दी जायेगी। गर्भवती माताओं को 25,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जायेगी। हमारी सरकार आने के बाद हर साल माताओं को तीन गैस सिलिंडर मुफ्त दिए जायेंगे।

मुख्यमंत्री शगुन योजना के तहत दी जा रही सहायता राशि को 31,000 रुपये से बढ़ा कर 51,000 रुपये किया जाएगा। राज्य के सभी 12 जिलों में से प्रत्येक में दो बालिका छात्रावासों का निर्माण कराया जाएगा। सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में महिलाओं के लिए 33% आरक्षण का प्रावधान होगा।

हमने अपने संकल्प पत्र में अगले पांच वर्षों के लिए हिमाचल के विकास का रोडमैप तैयार किया है। हमारी सरकार बनने पर हिमाचल प्रदेश में भी यूनिफ़ॉर्म सिविल कोड लागू किया जाएगा। अगले पांच वर्षों में हम हिमाचल प्रदेश से नशे के कारोबार को ख़त्म करेंगे। वक्फ की अवैध संपत्तियों की जांच भी कराई जाएगी।

हिमाचल की भाजपा सरकार मुख्यमंत्री अन्नदाता सम्मान निधि योजना शुरू करेगी जिसके तहत राज्य के छोटे किसानों को 3,000 रुपये वार्षिक की आर्थिक सहायता दी जायेगी जो पीएम किसान सम्मान निधि के अतिरिक्त होगा। अगले पांच वर्षों में हिमाचल प्रदेश में 5 नए मेडिकल कॉलेज खोले जायेंगे।

कांग्रेस ने लंबे समय तक देश में शासन किया लेकिन वह देश को दुनिया में पहचान नहीं दिला पाई जबकि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने केवल 8 साल में ही भारत को दुनिया का सिरमौर बना दिया है। आज भारत मांगने वाला नहीं बल्कि देने वाले देश के रूप में जाना जाता है।

हमारी सरकार में बिलासपुर में 1500 करोड़ रुपये की लागत से एम्स बना है, ऊना में बल्क ड्रग पार्क बन रहा है, नालागढ़ में मेडिकल डिवाइस पार्क बन रहा है और आईआईएम एवं आईआईटी बन रहा है जो जल्द ही शुरू होने वाला है। देश का पहला हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज हिमाचल में बना है।

भारतीय जनता पार्टी की सरकार आती है तो विकास होता है लेकिन कांग्रेस आती है तो विकास में बाधा उत्पन्न होती है। कांग्रेस की यूपीए सरकार ने हिमाचल से स्पेशल स्टेटस का दर्जा और इंडस्ट्रियल पैकेज भी वापस ले लिया था। ये बताता है कि कांग्रेस ने हिमाचल के साथ किस तरह का दोहरा रवैया अपनाया था।

Related post

कांग्रेस षड्यंत्रकारी पार्टी और सरकार : बिंदल

कांग्रेस षड्यंत्रकारी पार्टी और सरकार : बिंदल

कांग्रेस षड्यंत्रकारी पार्टी और सरकार : बिंदल सिरमौर, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए…
मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा, अबकी बार- 400 पार: अनुराग ठाकुर

मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा, अबकी बार-…

मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा, अबकी बार- 400 पार: अनुराग ठाकुर किसानों के लिए जो आज तक कोई सरकार…
केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह द्वारा मध्य प्रदेश के खजुराहो में ‘बूथ समिति सम्मेलन’ में दिए गए भाषण के मुख्य बिंदु

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह द्वारा…

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह द्वारा मध्य प्रदेश के खजुराहो में ‘बूथ समिति सम्मेलन’ में दिए गए भाषण…

Leave a Reply

Your email address will not be published.