मंडी शहर का हिस्सा बने केहनवाल मार्ग नाले में बदला, पैदल चलना भी हुआ मुश्किल

मंडी शहर का हिस्सा बने केहनवाल मार्ग नाले में बदला, पैदल चलना भी हुआ मुश्किल

मंडी शहर का हिस्सा बने केहनवाल मार्ग नाले में बदला, पैदल चलना भी हुआ मुश्किल, कटिंग करके मलबा उठाना भूल गया विभाग, दुर्घटना का खतरा बना, सभी नालियां बंद,

सड़क से होकर बह रहा है बारिश का पानी, मलबा बना मुसीबत, प्रशासन, विभाग से दुखी लोगों ने विक्रमादित्य को लिखा पत्र

बीरबल शर्मा

मंडी, 3 जुलाई। मंडी नगर निगम के वार्ड नंबर चार रामनगर व पांच सन्यारढ़ी का हिस्सा बना मंडी केहनवाल मार्ग नाले में बदल गया है। इस सड़क पर वाहन चलाना तो दूर पैदल चलने वालों के लिए आफत हो गई है। यह अति व्यस्त मार्ग है जिससे होकर रोजाना इलाका केहनवाल के साथ साथ रिवालसर, हमीरपुर, कोटली की तरह से भी हजारों वाहन आते हैं। यही नहीं इन दिनों जो अटारी, जालंधर, हमीरपुर मंडी लेह राष्ट्ीय मार्ग 3 को डब्बल लेन करने का काम चला हुआ है उसके भारी डंपर भी मलबा लेकर इसी मार्ग से दिन रात गुजर रहे हैं। पूरी सड़क टूट चुकी है। कई कई फीट गहरे गड्ढे बन चुके हैं, हालात ऐसे हैं कि इन गड्ढों में धान की रोपाई भी आसानी से हो सकती है। मंडी शहर के रामनगर केहनवाल चौक से दो किलोमीटर आगे केहनवाल इलाके को सड़क जाती है। इसका इन दिनांे स्तरोन्नत किए जाने का काम चला है। डीसी मंडी ने एक आदेश जारी करके कटिंग का काम बरसात के दिनों में रोक दिया है मगर जो कटिंग लगभग आधा किलोमीटर की लोक निर्माण विभाग के ठेकेदार ने की है उसका मलबा वैसे ही सड़क पर पड़ा है। इस मलबे से सड़क तंग हो गई है, दो पहिया वाहनों को पास देने लायक भी नहीं बची है। नालियां बद पड़ी हैं, पानी व मलबा सड़क से होकर बह रहा है, इसने सड़क का बुरी तरह से तोड़ दिया है। यहां पर रोजाना दोपहिया वाहन गिर रहे हैं। पैदल चलने वालों के लिए हर समय वाहनों से टकराने का खतरा बना हुआ है। रामनगर के पार्षद योग राज का कहना है कि इस सड़क की दुर्दशा बारे वह डीसी मंडी को लिखित तौर पर दे चुके हैं। नेशनल हाइवे अथारिटी को इसकी मरम्मत करनी है तथा केहनवाल मार्ग का मलबा लोक निर्माण विभाग को उठाना है मगर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। इसके चलते यहां पर कुछ दिन पहले ही एक डंपर लुढ़क कर नाले में जा गिरा था जिसमें युवा चालक की मौत हो गई थी। सन्यारढ़ी वार्ड के पार्षद वीरेंद्र आर्य ने भी कहा कि बार बार ध्यान दिलाए जाने के बावजूद कोई सुनवाई नहीं हो रही है।
इधर, रोजाना इस मार्ग को इस्तेमाल करने वालों व स्थानीय लोगों ने दुखी होकर अब प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री विक्रमादित्य सिंह जिन्होंने यह एलान किया था कि बरसात से पहले पहले सभी नालियां साफ करके पानी की निकासी सुनिश्चित की जाएगी व सड़कों की मरम्मत होगी की जाएगी को इस मार्ग की दुर्दशा बारे लिखा है। के के गोयल, रमेश ठाकुर, हरि सिंह डोगरा, डॉ जीवा नंद चौहान, बीसी शर्मा, विनय सिंह बरवाल, रणवीर सिंह, ललित कुमार,  कशमीर सिंह भारद्वाज, युगल किशोर शर्मा, सूरज सिंह ठाकुर, नेत्र सिंह गुलेरिया, हरीश गुलेरिया, ज्ञान चंद शर्मा, सुच्चा सिंह, सुनीता कुमारी, जीवन लाल, विनोद कुमार गुलेरिया, रमेश गुलेरिया, विक्की पटयाल, मणी राम ठाकुर, भवानी सिंह ठाकुर, तेज लाल, अरूण कुमार, तरूण कुमार, सीता राम, कमला देवी, बिट्टू कुमार, मेघ सिंह ठाकुर, नंद लाल, धर्म चंद, हुक्म चंद आदि द्वारा हस्ताक्षरित इस पत्र में लोक निर्माण विभाग, मंडी प्रशासन, नेशनल हाइवे अथारिटी की कारगुजारी के प्रति उन्हें अवगत करवाते हुए इस मार्ग पर कटिंग के बाद सड़क पर ही डंप किए गए मलबे को तुरंत हटाने, केहनवाल चौक से तल्याड़ तक के मार्ग को मरम्मत करने तथा सभी बंद नालियों को खोलने की मांग की है। यह भी कहा है कि यदि ऐसा न किया गया तो सभी लोग इस मार्ग पर धरना देकर अपनी मांग को उठाएंगे।

Related post

CM Sukhu Leads Restoration Efforts After Landslide Near DDU Hospital in Shimla

CM Sukhu Leads Restoration Efforts After Landslide Near DDU…

CM Sukhu Leads Restoration Efforts After Landslide Near DDU Hospital in Shimla Chief Minister Thakur Sukhvinder Singh Sukhu personally visited the…
Interstate Security Review in Jammu and Kashmir

Interstate Security Review in Jammu and Kashmir

Interstate Security Review in Jammu and Kashmir Senior BSF and police officials from Jammu and Kashmir and Punjab attended a high-level…
PV Sindhu made a significant move in the business world

PV Sindhu made a significant move in the business…

PV Sindhu made a significant move in the business world Olympic medalist and badminton sensation PV Sindhu has made a significant…

Leave a Reply

Your email address will not be published.