जलियांवाला बाग के शहीदों के बलिदान पर राजनीति नहीं होनी चाहिए, चुग

जलियांवाला बाग के शहीदों के बलिदान पर राजनीति नहीं होनी चाहिए, चुग

सोनिया गांधी और मनमोहन (अमृतसर निवासी) जलियांवाला बाग में एक ईंट की भी मरम्मत नहीं की ,अब मोदी जी ने 20 करोड़ का विकास कर दिखाया : चुघ



क्या मोदी जी द्वारा 3 शहीदी गैलरी , शहीदी कुँए को गौरवशाली , शाहिद जयोति की उचित स्थान व शहीदी बाग को वैभवशाली बनाना अपराध है : चुघ

मोदी जी द्वारा जलियांवाला बाग में 20 करोड़ की लागत से पुननिर्माण कार्यो के बाद इतिहासक , गौरवमय व भव्य रूप देश की 130 करोड़ जनता के सामने प्रस्तुत हुआ : चुघ


चंडीगढ़, 1 सितंबर:


 

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग ने  कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी द्वारा जलियांवाला बाग के शहीदों के बलिदान पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए उनकी कड़ी आलोचना की ओर कहा कि राहुल बचकाना व मूर्खतापूर्ण बयानबाजी कर रहे हैं।

 

       चुग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा की जलियांवाला बाग में 20 करोड़ की लागत से पुननिर्माण कार्यो के बाद नया  इतिहासक , गौरवमय व भव्य रूप देश की 130 करोड़ जनता के सामने प्रस्तुत हुआ है। असफलता की आग में डूबे राहुल गांधी 2014 के बाद विरोध के लिए विरोध करने की प्रतिशोद की नापाक राजनीति करने में व्यस्त है।


 चुग ने कहा कि चार दशक से अधिक समय तक जब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (अमृतसर निवासी) जलियांवाला बाग के मामलों की कमान संभाल रहे थे, तब एक ईंट की भी मरम्मत नहीं की गई थी।
 "शहीद स्थल पर आने वाले लोगों को बुनियादी सुविधाएं भी नहीं मिल पाती थी।

चुघ ने कहा कि  ऐतिहासिक जलियांवाला बाग को भव्य बनाने की बात तो छोड़िए श्रीमती सोनिया गांधी व कांग्रेस ने इतने बड़े कार्यकाल में कुछ नही किया  कोई विकास कार्य नही करवाया , 50 वर्ष पहला निर्माण कार्य  जर्जर हो गया था अब यह शर्म की बात है कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा किए गए रचनात्मक प्रयासों की सराहना करने के बजाय घिनौनी राजनीति कर रहे हैं।



 चुग ने कहा की कांग्रेस के मन में स्वतंत्रता सेनानियों और देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वालों के लिए कभी कोई सम्मान नहीं रहा है।  "आखिर इटली में जन्मी श्रीमती सोनिया गांधी और उनके परिवार को भारत के स्वतंत्रता संग्राम के बारे में क्या पता होगा?"

उन्होंने आश्चर्य से पूछा की क्या राहुल गांधी देश की आजादी के लिऐ लड़े  स्वतंत्रता सेनानियों के दस नाम भी नहीं गिनवा सकते हैं उनके गांव व शहर व उनकी एक भी वीर गाथा सुना सकते हैं



 चुग ने कहा की उन्हें यकीन नहीं है कि राहुल गांधी जानते हैं की जलियांवाला बाग हत्याकांड क्यों और कब हुआ था किस विदेशी ने गोलियां चलाई थी ।


 चुघ ने कहा की यह देश के लिए शर्म की बात है कि सोनिया (मायनो )गांधी परिवार, जिसकी जड़ें शायद ही भारतीय संस्कृति में हैं, इस लिए ही व  स्वतंत्रता सेनानियों व शहीदी स्थालों  का राजनीतीकरण कर रही है। क्या 3 शहीदी गैलरी , शहीदी कुँए को गौरवशाली , शाहिद जयोति की उचित स्थान व शहीदी बाग को वैभवशाली बनाना अपराध है|