ओमीक्रान को लेकर कांगड़ा जिला प्रशासन हुआ सतर्क

Breaking News

ओमीक्रान को लेकर कांगड़ा जिला प्रशासन हुआ सतर्क

हाई रिस्क देशों से आए नागरिकों को सात दिन का क्वारंटीन जरूरी
 

 

धर्मशाला, 01 दिसंबर। कांगड़ा जिला में ओमीक्रोन वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए प्रशासन पूरी तरह से सजग और सतर्क है इसको लेकर दुनिया के 12 देशों यूरोप, यूनाइटिड किंगडम, साउथ अफ्रीका, ब्राजील, बंगलादेश, बोटसवाना, चीन, मारीशस, न्यूजीलैंड, जिम्मबाबे, सिंगापुर, हांग कांग, इजरायल से कांगड़ा जिला में आने वाले नागरिकों को सात दिन के लिए क्वारंटीन होना अनिवार्य किया गया है।
 

यह जानकारी देते हुए उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि इन देशों से आने वाले नागरिकों का एयरपोर्ट पर आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पंचायती राज विभाग, शहरी विकास विभाग के अधिकारियों को उपरोक्त नागरिकों के क्वारंटीन की निगरानी भी सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है ताकि किसी भी स्तर पर वायरस के संक्रमण का खतरा नहीं हो।
    उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को भी उचित दिशा निर्देश दिए गए हैं। उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि सभी नागरिकों को कोविड प्रोटोकॉल की अनुपालना सुनिश्चित करना अत्यंत जरूरी है। उन्होंने कहा कि सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग तथा हाथों को बार-बार धोने की शर्तों की नियमित तौर पर अनुपालना सुनिश्चित करने पर ही वायरस के संक्रमण से बचाव हो सकता है।


उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि बुखार, सर्दी जुकाम इत्यादि के लक्षण होने पर टेस्ट अवश्य करवाएं इस के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्वास्थ्य संस्थानों में टेस्ट की सुविधा निशुल्क प्रदान की जा रही है। उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि कोविड टीकाकरण को लेकर भी कांगड़ा जिला में गत दिनों अभियान तेज किया गया है। उन्होंने कहा कि अगर कोई नागरिक दूसरी डोज से वंचित है तो वे तुरंत नजदीकी कोविड टीकाकरण सेंटर पर जाकर डोज लेना सुनिश्चित करे। इससे पहले मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा गुरदर्शन ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए ओमीक्रान को लेकर डब्ल्यू एच ओर द्वारा जारी हिदायतों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर एडीएम रोहित राठौर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।



Categories