15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों को हिमाचल प्रदेश में कोविड-19 टीकाकरण महाअभियान का शुभारंभ

15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों को हिमाचल प्रदेश में कोविड-19 टीकाकरण महाअभियान का शुभारंभ

डरे नहीं-सजग रहें, नियमों की पालना करें तो कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा कोरोना

निश्चित तौर पर कोरोना की तीसरी लहर दस्तक दे रही है मगर, एक बात स्पष्ट  हैं कि "डरे नहीं- सजग रहें, कोरोना कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा और कोरोना से बचाव की नियमों की पालना करें"।प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के कुशल मार्गदर्शन में विश्व का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन अभियान भारत में सफलतापूर्वक चलाया जा रहा है। अब तक देश के 84.80 करोड़ लोगों को कोरोना की पहली डोज लग चुकी है और लगभग 61 करोड़ लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। इतना बड़ा अभियान सारे विश्व में कहीं और नहीं चलाया जा सकता। देश में कुल 7.40 करोड़ बच्चे इस श्रेणी में आते हैं,

 सरकार ने कोरोना से बचाव के लिए समय-समय पर दिशा-निर्देश जारी किए हैं और हम सभी से यह कहना चाहते हैं कि आप सब उनका पालन करें।

लोग मॉस्क डाले, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, समय पर साबुन से हाथ साफ करे, कहीं भीड़ इकट्ठी मत करें। सरकार ने जो संख्या की अनुमति दी है उसकी अवहेलना न करें,उतनी संख्या में ही एकत्रित होना चाहिए जो बताई गई है"

 

 

कोविड-19 से बचने के लिए टीका सबसे बड़ा सुरक्षा कवच: किशन कपूर
दाड़ी में किया टीकाकरण महाअभियान का शुभारंभ


धर्मशाला, 03 जनवरी: सांसद किशन कपूर ने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 को हराने के लिए और खुद को सुरक्षित करने के लिए कोरोना वैक्सीन लगवाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन लगवाने के बाद या तो कोरोना बिलकुल नहीं होगा और यदि हो भी गया तो इसका अधिक असर नहीं होगा और मरीज शीघ्र स्वस्थ हो जाएगा।
किशन कपूर आज राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, दाड़ी में 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों के टीकाकरण महाअभियान का शुभारंभ अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने स्कूल में तीन स्कूली बच्चों को प्रतीक स्वरूप कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाकर महाअभियान का शुभारंभ किया। यह महाअभियान पूरे प्रदेश में एक साथ चलाया जा रहा है।

कपूर ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों के टीकाकरण के लिए 3.52 लाख वैक्सीनेशन तथा कांगड़ा जिला के लिए इस आयुवर्ग के 74 हजार बच्चों को टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन, स्वास्थ्य, शिक्षा तथा अन्य विभागों के सहयोग से यह लक्ष्य जल्दी पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पहली व दूसरी वैक्सीनेशन का कार्य 100 प्रतिशत किया गया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों के टीकाकरण का भी लक्ष्य प्राप्त करेगा।

कपूर ने कहा कि कोरोना वैक्सीन जीवन के लिए संजीवनी का कार्य करती है। इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है। किसी-किसी को थोड़ा बुखार आता है। इसलिए सभी लोग खुद भी वैक्सीन लगवाये एवं अन्य लोगों को भी लगवाने के लिए प्रेरित करें। उन्होंनेे कहा कि वैक्सीन लगवाने के बाद भी गाइड लाइन का पालन करना है। इसके लिए मास्क का उपयोग करें, आवश्यक दूरी बनाए रखें, भीड़-भाड़ में नहीं जाएँ, आवश्यक होने पर ही घर से निकले तथा समय-समय पर साबुन से हाथ धोयंे या सेनेटाइजर का उपयोग करते रहें। उन्होंने कहा कि कोरोना रूपी संकट से लड़ने का समय है। कोरोना ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया है। इसलिए नियमों का पालन करते रहना अति-आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता कोरोना पर विजय प्राप्त करना है।

इस अवसर पर एडीसी राहुल कुमार मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.गुरदर्शन गुप्ता, उप निदेशक उच्च शिक्षा रेखा कपूर, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.विक्रम कटोच, बीएमओ तियारा डॉ.संजय भारद्वाज,        रा0आदर्शव0मा0पा0 दाड़ी की प्रधानाचार्य अमिता सूद सहित स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी, स्कूल का स्टाफ तथा स्कूली बच्चे मौजूद थे।

 

 


 

कोविड 19 के विरुद्ध शुरू जंग में सबकी सहभागिता अनिवार्य: सरवीन चौधरी
राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान शाहपुर में किया टीकाकरण महाअभियान का शुभारंभ


धर्मशाला, 03 जनवरी: सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी ने आज राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान शाहपुर में 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग तक के बच्चों के लिए शुरू किए गए कोविड टीकाकरण महाअभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन के प्रति युवा वर्ग जागरूकता दिखाए, तभी अभियान पूरी तरह सफल होगा। इसके पश्चात 15 से 18 वर्ष की आयुवर्ग वालों को टीका लगाया गया। उन्होंने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी है। इसके विरुद्ध शुरू जंग में सबकी सहभागिता अनिवार्य है। सभी के सहयोग से ही देश कोरोना से जीतेगा।
 

सरवीन ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों के टीकाकरण के लिए 3.52 लाख वैक्सीनेशन तथा शाहपुर ब्लॉक के अन्तर्गत 18 हज़ार बच्चों को टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि आज शाहपुर ब्लॉक के अन्तर्गत 207 बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 10 जनवरी से हेल्थ केयर वर्कर व फ्रंटलाइन वर्कर्स को बूस्टर डोज लगनी शुरू होगी।
 

सामाजिक अधिकारिता मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन तथा मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश कोविड टीकाकरण देने वाला देश का पहला राज्य बना है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि सभी के प्रयासों से हिमाचल प्रदेश बच्चों को कोविड की खुराक देने वाला राज्य बनेगा।
 

सरवीन चौधरी ने कहा कि हम अभी भी खतरे से बाहर नहीं हुए हैं और हम सभी के लिए कोविड संबंधी प्रोटाकॉल और सावधानी बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई जन सहयोग के बिना नहीं जीती जा सकती। उन्होंने प्रत्येक नागिरक से मास्क पहनने, लगातार हाथ धोने, सुरक्षित दूरी का पालन करने और अनुशासित तथा स्वस्थ जीवन शैली अपनाने की अपील की।

 

 

सिरमौर में 15 से 18 आयु वर्ग के लगभग 46000 बच्चों को लगेगा कोविड टीका - गौतम


उपायुक्त सिरमौर ने नवोदय विद्यालय से किया कोरोना वैक्सीनेशन अभियान का शुभारंभ


नाहन 03 जनवरी - उपायुक्त सिरमौर राम कुमार गौतम ने आज जवाहर नवोदय विद्यालय से 15 से 18 आयु वर्ग के बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन अभियान का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि जिला सिरमौर में इस आयु वर्ग के लगभग 46000 बच्चों को कोविड का टीका लगाया जायेगा। आज जवाहर नवोदय विद्यालय नाहन में लगभग 230 बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई।
इस अवसर पर उपायुक्त सिरमौर ने स्वयं बच्चों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि टीकाकरण से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी और यह टीका हमें ओमिक्रोन के खतरे से बचाए रखने में सहयोग करेगा। उन्होंने स्कूल के बच्चों की काउंसलिंग भी की।
उन्होंने कहा कि जिला सिरमौर में अभी तक ओमिक्रोन का कोई भी केस नहीं है, लेकिन हिमाचल प्रदेश में इसके केस पाये गये हैं। इसीलिए आवश्यक है कि ऐहतियात के तौर पर मास्क व सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने के साथ-साथ भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों से दूर रहें।
उन्होंने बच्चों को पोषण अभियान से जुड़ने और स्कूल प्रशासन को बच्चों को सन्तुलित आहार उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने बच्चों को ओवरऑल डेवलपमेंट का संदेश दिया, जिसमें बच्चों को पढ़ाई के साथ योग मेडिटेशन, खेल, व सांस्कृतिक गतिविधियों आदि में भाग लेने के लिए प्रेरित किया गया।
उन्होंने विद्यालय प्रशासन को सभी छात्रों को 28 दिनों के बाद दूसरी डोज लगवाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 संजीव सहगल, खण्ड चिकित्सा अधिकारी धगेडा खण्ड डा0 मोनीशा अग्रवाल, प्रधानाचार्य डाइट नाहन रिशीपाल शर्मा, प्रधानाचार्य जवाहर नवोदय विद्यालय सुरेन्द्र कुमार तिवारी सहित विद्यालय के अन्य अध्यापक उपस्थित रहे।