आपदा में अवसर ढूंढने वाली बीजेपी के ठेंगे पर है संविधान : राजेंद्र राणा

पहले भ्रष्टाचार व अब उपचुनाव को टालने का महामारी को बनाया जरिया 
सुजानपुर 5 सितंबर
सुजानपुर में मची सियासी धमाल-चौकड़ी के बीच रविवार 5 सितंबर का दिन विशेष रहा। क्षेत्र की सिकांदर ग्राम पंचायत में आयोजित महिला मंडल सम्मानित समारोह कार्यक्रम के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए राज्य कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने कहा कि देश और प्रदेश की जनता ने अपने जीवनकाल में बीजेपी के तौर पर ऐसी सरकार पहली बार देखी है जो कि आपदा में भी अवसर ढूंढती है। उन्होंने कहा कि आपदा काल को अवसर  बनाकर मौका परस्त बीजेपी ने पहले कोविड-19 महामारी के नाम पर सेंटर से स्टेट तक जमकर भ्रष्टाचार किया और अब महामारी को ही राज्य में उपचुनाव टालने का जरिया बना डाला है। राणा ने कहा कि बीजेपी सरकार की अपनी खुफिया एजेंसियों से लगातार मिली फीडबैक के आधार पर यह चुनाव टाला गया है। क्योंकि खुफिया एजेंसियों ने लगातार सरकार को बताया है कि इन उपचुनावों में बीजेपी की हालत बद से बदतर होगी। क्योंकि माहौल सरकार के खिलाफ है। इसी खौफ व हार के डर से बीजेपी ने महामारी को ही चुनाव टालने का बहाना बना लिया। मुख्य तौर पर बीजेपी ने तीन बिंदुओं के बहाने के आधार पर चुनाव टालने के लिए निर्वाचन आयोग को झूठी दलील दी है कि जिसमें महामारी के खतरे, बरसात, सेब व त्योहारों के सीजन के कारण चुनाव करवाना खतरे से खाली नहीं है। इन्हीं बहानों की आड़ में बीजेपी ने चुनाव को आगे सरकाने का बहाना बनाया है। यह भी हो सकता है कि सत्ता मद में मदहोश बीजेपी अब इन उपचुनावों को करवाए ही नहीं। राणा ने कहा कि ऐसे में सवाल यह उठता है कि जब बीजेपी की बड़ी-बड़ी जन आर्शीवाद यात्राएं व रैलियां प्रदेश में हो रही हैं तो बीजेपी के बाहनों की एसओपी उन यात्राओं व रैलियों में लागू क्यों नहीं हो रही हैं। बीजेपी को यह भी बताना होगा कि जहां तक प्रदेश के आम साधारण चुनाव अक्तूबर या नवंबर के पहले हफ्ते में होते रहे हैं। तब त्योहारों, बरसात व सेब के सीजन को कारण बताकर बीजेपी ने चुनाव क्यों नहीं रोके। तब क्या यह कारण चुनाव प्रक्रिया में बाधा नहीं बनते थे। राणा ने आरोप जड़ा कि सत्ता के लिए पगलाई बीजेपी की इस साजिश में संविधान तक को ठेंगा दिखाने की हिमाकत यह पार्टी कर रही है। जबकि दूसरी ओर देश प्रेम, राष्ट्र भक्ति व राष्ट्रवाद की बातें करके देश को बर्बाद करने पर तुली हुई है। राणा ने सिकांदर पंचायत के कार्यक्रम में सिसवां गांव में सड़क बनाने के लिए 1 लाख रुपए स्वीकृत करने की घोषणा की। जबकि इसी दौरान 5 महिला मंडलों व 3 स्वयं सहायता समूहों को 12-12 हजार रुपए व टेंट देकर सम्मानित किया। इसके अलावा मौके पर आई शिकायतों का भी निपटारा किया। 
 
इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस सोशल मीडिया के चेयरमैन व प्रवक्ता अभिषेक राणा, सर्व कल्याणकारी संस्था के जिला अध्यक्ष लेखराज ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग का महासचिव एडवोकेट नरेश जसवाल,डॉ प्यारे लाल, उप प्रधान मनोहरलाल, ब्लॉक उपाध्यक्ष प्रेम डोगरा, रिटायर प्रिंसिपल व प्रभारी सुरेश कुमार, उपप्रधान सुमेश उर्फ सुम्मी, बीडीसी बचित्र सिंह, वार्ड मेंबर रीमा देवी, पूर्व प्रधान रजनीश कुमारी, बूथ अध्यक्ष बलदेव सिंह, अमर नाथ, कैप्टन भूप सिंह, बूथ अध्यक्ष कश्मीर सिंह व गणमान्य लोग उपस्थित रहे।