हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बड़ी,सक्रिय मरीजों की संख्या 1655 हुई,रात 10 बजे   से   सुबह 5 बजे तक रात्रि कर्फयू

Breaking News

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बड़ी,सक्रिय मरीजों की संख्या 1655 हुई,रात 10 बजे   से   सुबह 5 बजे तक रात्रि कर्फयू

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ गई है. प्रदेश में गुरुवार को 498 कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं. 31 दिसंबर, 2021 तक प्रदेश में जहां कोरोना संक्रमण दर 1.03 थी, वहीं अब .बढ़कर 3.69 फीसदी हो गई है. सक्रिय मरीजों की संख्या 1655 हो गई है. सरकार ने संभावित तीसरी लहर को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है.

सीएम जयराम ठाकुर ने माना है कि सूबे में तीसरी लहर आ चुकी है. बड़ी बात यह है कि सैंपलिंग कम होने के बाद भी इतनी संख्या में केस आ रहे हैं. गुरुवार को 7 हजार के करीब सैंपल लिए गए थे. 

जिला कांगड़ा में कोरोना के मामलों में तेजी आई है. अकेले कांगड़ा में तीन दिन में लगातार 100 से ज्यादा केस रिपोर्ट हुए हैं. गुरुवार को कांगड़ा में 170 कोरोना मामले रिपोर्ट हुए हैं.कांगड़ा में तीन दिन में 104, 136 और 146 केस यानी कुल 486 मामले रिपोर्ट हुए हैं.

 

कांगड़ा जिला में रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रात्रि कर्फयू  डॉ.निपुण जिंदल

धर्मशाला, 06 जनवरी: जिला दंडाधिकारी कांगड़ा डॉ.निपुण जिंदल ने कांगड़ा में कोरोना के ओमिक्रॉन वेरियंट कोरोना-19 से बचाव के लिये आपदा प्रबंधन एक्ट, 2005 की धारा 34 के तहत आदेश जारी करते हुए कहा कि कांगड़ा जिला में रात 10 बजे सुबह 5 बजे तक रात्रि कर्फयू रहेगा। उन्होंने कहा कि जिला में ‘‘नो मास्क-नो सर्विस’’ पॉलिसी लागू रहेगी। उन्होंने कहा कि कर्फयू के दौरान छूट वाली श्रेणी के लोगों को छोड़कर अन्य किसी भी व्यक्ति या वाहन को आवाजाही को अनुमति नही होगी।

जिला दंडाधिकारी ने कहा कि जिला में मैरिज पैलेस, बैंक्वेट हॉल इत्यादि में इंडोर क्षमता के 50 प्रतिशत लोगों को ही अनुमति होगी। सभी तरह के सार्वजनिक, धार्मिक, खेल, सांस्कृतिक, राजनीतिक और सामाजिक कार्यक्रमों में 50 फीसदी आक्युपेंसी के साथ कोविड-19 प्रोटोकॉल की अनुपालना सुनिश्चित करवानी होगी। उन्होंने कहा कि इंडोर खेल परिसरों, सिनेमा हॉल, मल्टीप्लेक्स, स्टेडियम, स्वीमिंग पूल, जिम, लंगर इत्यादि आगामी आदेशों तक बंद रहेंगे। धार्मिक स्थलों में लंगर का आयोजन नहीं होगा। उन्होंने कहा कि किसी एक क्लस्टर में कोविड के मामले पाये जाने पर कनटेनमैंट जोन बनाने तथा कोविड दिशा निर्देशों की अनुपालना को सुनिश्चित किया जाएगा। इसके साथ ही कोविड पॉजिटिव मामलों की कान्टेक्ट टेªसिंग सुनिश्चित की जाएगी।


इन श्रेणियों को मिलेगी रात्रि कर्फयू से छूट

डॉ.निपुण जिंदल ने कहा कि आवश्यक वस्तएं जैसे दूध, सब्जियों की सप्लाई वाली गाड़ियों, फायर, एंबुलेस, शव वाहन आदि को कर्फयू से छूट दी गई है। उन्होनंे कहा कि निजी अस्पताल, फार्मेसी ओर स्वास्थ्य सम्बन्धी निर्माण इकाईयों तथा इसके परिवहन में लगे वाहनों तथा खाद्य प्रसंकरण इकाईयों को भी रात्रि कर्फयू मे छूट प्राप्त होगी। आपात स्थिति में अस्पताल जाने वाले व्यक्ति, पैट्रोल पम्प, एलपीजी गैस स्टेशन, तेल एजेंसिंया, गोदाम तथा इनकी ट्रांस्पोर्टेशन, पुलिस, मिल्ट्री, पैरा मिल्ट्री व अन्य सुरक्षा बल जो राज्य तथा केन्द्र सरकार के अधीन कार्यरत हों, डियूटी के दौरान निजी स्वास्थ्य प्रतिष्ठान में कार्यरत व्यक्तियों सहित स्वास्थ्य एवं आयुष विभाग के अधिकारी, सरकारी अधिकारी/कर्मचारी/आपातकालीन डियूटी पर तैनात व्यक्ति, कोविड-19 से सम्बन्धित डयूटी में लगे सरकारी तथा अर्ध सरकारी कर्मचारियों को छूट, मान्यता प्राप्त प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया संवाददाता और समाचार पत्र की आपूर्ति श्रृंखला में शामिल व्यक्ति व वाहन, डियूटी के दौरान बिजली, पानी, नगरपालिका और आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति में शामिल अधिकारी, दूरसंचार ऑपरेटर और उनकी नामित एजेंसियां, एफसीआई और राज्य के खाद्य डिपूओं पर राशन की लोडिंग और अनलोडिंग, एटीएम, शवदाह, श्मशान, कब्रिस्तान, ताबूत बनाने वालों सहित अंतिम संस्कार, दाह संस्कार, दफन, कब्रिस्तान और सम्बन्धित सेवाओं का प्रदर्शन करने वाले कार्यकर्ताओं को छूट होगी।

उन्होंने कहा कि पुलिस अधीक्षक, कांगड़ा, समस्त उपमंडलाधिकारी कांगड़ा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी कांगड़ा, समस्त खंड चिकित्सा अधिकारी कांगड़ा एवं आम जनता द्वारा इन आदेशों की अनुपालना सुनिश्चिित की जाएगी। उन्होंने कहा कि आदेशों की उल्लंघना करने वालों के विरूद्ध आपदा प्रबंधन एक्ट 2005 की धारा 51-60 के तहत कानूनी कार्यवाई अमल में लाई जाएगी।

  जिला दंडाधिकारी डॉ.निपुण जिंदल ने कहा कि कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए आपदा प्रबधन अधिनियम 2005 की धारा 28 और 34 क तहत उपमंडल स्तरीय निरीक्षण कमेटी का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित उपमंडल मजिस्टेªट इस कमेटी के अध्यक्ष होंगे और पुलिस उप अधीक्षक, खंड विकास अधिकारी और खंड चिकित्सा अधिकारी इस कमेटी के सदसय होंगे।

 

5 जनवरी का दिन पंजाब की राजनीतिक व पंजाब सरकार के अलोकतांत्रिक व्यवहार के लिए काले अक्षरों में लिखा जाएगा: शर्मा

https://himsatta.com/news/himsatta-news-06-january-2022-guid-991356

 

 

हमीरपुर मेें​ 62  लोग निकले कोरोना पॉजीटिव


हमीरपुर 06 जनवरी। जिला मेें वीरवार को 62 लोग कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं। इनमें से रैपिड एंटीजन टैस्ट में 55 और आरटी-पीसीआर टैस्ट में 7 की पुष्टि हुई है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरके अग्रिहोत्री ने बताया कि वीरवार को जिला में रैपिड एंटीजन टैस्ट के लिए कुल 354 सैंपल लिए गए, जिनमें से 55 पॉजीटिव निकले। उन्होंने बताया कि बुधवार को आरटी-पीसीआर टैस्ट हेतु लिए गए सैंपलों की रिपोर्ट भी वीरवार को प्राप्त हुई। इसमें 7 सैंपल पॉजीटिव पाए गए हैं।

 

7 जनवरी को इन स्कूलों में लगेंगे टीके


हमीरपुर 06 जनवरी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरके अग्रिहोत्री ने बताया कि शुक्रवार 7 जनवरी को कोरोना रोधी टीकाकरण का शेड्यूल जारी कर दिया गया है। शेड्यूल इस प्रकार है

:
स्वास्थ्य खंड टौणी देवी : एकमे सीनियर सेकेंडरी स्कूल हमीरपुर, ब्ल्यू स्टार स्कूल ककरू, हाई स्कूल मझोग सुल्तानी, नरेली, सीनियर सेकेंडरी स्कूल अमरोह, ऐम पब्लिक स्कूल हमीरपुर, ऑलमाइटी सीनियर सेकेंडरी स्कूल हमीरपुर, हिम किरण स्कूल लोहारडा, एमएचएस घिरथेड़ी, मैगनेट पब्लिक स्कूल हमीरपुर, हमीरपुर पब्लिक स्कूल, मोबाइल टीम-राजकीय स्कूल भरठियां, परमार स्कूल धरोग, हाई स्कूल झटवाड़, आईटीआई लंबलू-बोहनी, पीएमएस बंबोह, दिशा पब्लिक स्कूल कलोह और एचवीएनसी ख्याह।

स्वास्थ्य खंड नादौन : हाई स्कूल हथोल, सीनियर सेकेंडरी स्कूल बसारल, एलटी नारायण पब्लिक स्कूल झलाण, सीनियर सेकेंडरी स्कूल अमलैहड़, हाई स्कूल मझियार, भवरां, कोहला, आईटीआई बेला, मोनाल पब्लिक स्कूल, आईटीआई रैल और हाई स्कूल जिवाणी।

स्वास्थ्य खंड भोरंज : सीनियर सेकेंडरी स्कूल पट्टा एवं एचएससी बलोखर, सिल्वर लाइन पब्लिक स्कूल, डायमंड स्कूल, शीतल मेमोरियल स्कूल, सीनियर सेकेंडरी स्कूल महल, अमरोह, मनोह, शिशु निकेतन हाई स्कूल, न्यू ईरा पब्लिक स्कूल डेरा परोल, सीनियर सेकेंडरी स्कूल मुंडखर।

स्वास्थ्य खंड बड़सर : हाई स्कूल बल्ह विहाल, सीनियर सेकेंडरी स्कूल सोहारी, सनराइज पब्लिक स्कूल मगनोटी, सीनियर सेकेंडरी स्कूल धबीरी, लोहारली, शिवा पब्लिक स्कूल गारली, सीनियर सेकेंडरी स्कूल ब्याड़, एसडीएस ब्याड़, प्रदेश पब्लिक स्कूल बणी और दिव्य आदर्श विद्यालय ठमाणी

स्वास्थ्य खंड गलोड़ : एनडीपीएसएस बुधवीं, बाल गुरुकुल स्कूल कांगू, सीनियर सेकेंडरी स्कूल धनेड, नालटी, कश्मीर और कुलेहड़ा।

स्वास्थ्य खंड सुजानपुर : सीनियर सेकेंडरी स्कूल बजरोल, बीड़-बगेहड़ा, हाई स्कूल चमियाणा, ठाणा धमडिय़ाण, कनेरड।

 

हमीरपुर के एनआईटी  के 39 विद्यार्थियों समेत जिले में 62 लोग संक्रमित पाए गए हैं. यहां बुधवार को 43 केस रिपोर्ट हुए थे. सोलन में 75 नए मामले आए, जबकि मंडी जिले के सुंदरनगर डेंटल कॉलेज के 14 प्रशिक्षु, आईआईटी मंडी के नौ शोधार्थियों समेत 27 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं.

 

 

हमीरपुर में भी रात्रि 10 से सुबह 5 बजे तक रहेगा कफ्र्यू : जिला दंडाधिकारी
50 प्रतिशत क्षमता के साथ ही किए जा सकेंगे सभी तरह के आयोजन

हमीरपुर 06 जनवरी। कोरोना संक्रमण के मामलों में वृद्धि को देखते हुए मुख्य सचिव एवं राज्य कार्यकारी समिति के अध्यक्ष के दिशा-निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित बनाने के लिए जिला दंडाधिकारी देबश्वेता बनिक ने आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 की धारा-34 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए आदेश जारी किए हैं।
 

जिला दंडाधिकारी ने जिला में ‘नो मास्क, नो सर्विस’ के नियम को सख्ती से लागू करने के आदेश दिए हैं। जिला में रात्रि 10 बजे से प्रात: 5 बजे तक कफ्र्यू लागू रहेगा, लेकिन आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई करने वाले वाहनों तथा अन्य आवश्यक सेवाओं में लगे वाहनों पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा।
 

किसी भी तरह के सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन और अन्य किसी भी तरह के आयोजन इंडोर, कवर्ड एरिया या खुले स्थानों पर केवल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ ही किए जा सकेंगे। ये आयोजन कोविड-19 से संबंधित सभी नियमों एवं सावधानियों की अनुपालना की शर्त पर ही किए जा सकेंगे।
 

आदेशों के अनुसार जिला में होटल और र्रेस्तरां खुले रहेंगे, लेकिन इनमें भी कोविड-19 प्रोटोकोल का पालन करना होगा। सिनेमा हॉल, मल्टीप्लैक्स, खेल परिसर, स्टेडियम, स्वीमिंग पूल और जिम आगामी आदेशों तक बंद रहेंगे। सभी धार्मिक स्थलों एवं पूजा स्थलों पर लंगर पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।
 

जिला दंडाधिकारी ने पुलिस, एसडीएम, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, खंड चिकित्सा अधिकारियों और अन्य सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को इन आदेशों की अक्षरश: अनुपालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इनका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 की धारा 51-60 के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

 

 

जिला सिरमौर में रात्रि 10 बजे से प्रातः 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू - डीसी

 

नो मास्क नो सर्विस नीति लागू रहेगी, सभी तरह की आपातकालीन व आवश्यक सेवाएं रहेंगी जारी 

 

नाहन 07 जनवरी - हिमाचल प्रदेश में कोरोना सक्रमण के नए वेरियंट ओमिक्रॉन के बढ़ते प्रभाव व जिला सिरमौर में कोरोना सक्रंमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने रात्री 10 बजे से प्रातः 5 बजे तक नाईट कफर्यू लागु करने के आदेश जारी किए हैं। हालांकि रात्री कफर्यू के दौरान प्रशासन द्वारा तैनात किए गए अधिकारीयों, कर्मचारियों और स्वास्थ्य एवं आयुष विभाग, निजी स्वास्थ्य संस्थानों, अग्निशामक सेवा में लगे कर्मियों, पुलिस, सैन्य, अर्धसैनिक बल और अन्य सुरक्षा बलों, टेलीकॉम और इंटरनेट सर्विस, पेट्रोल पंप, राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित ढाबे आदि पर यह आदेश लागू नहीं होंगे। इसके अतिरिक्त, सिरमौर में नो मास्क नो सर्विस निति भी लागू रहेगी।

आदेशानुसार सिरमौर में किसी भी तरह के सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक आयोजनों के लिए सात दिन पहले संबंधित उपमंडल दण्डाधिकारियों से अनुमति लेनी अनिवार्य होगी। होटल और रेस्तरां फिलहाल कोविड नियमों का सख्ती से पालन करते हुए खुले रहेंगे। किसी भी धार्मिक स्थल पर लंगर की अनुमति नहीं होगी। मंदिरों में तीर्थयात्रियों को गर्भगृह में प्रवेश करने की अनुमति नहीं होगी। इसके साथ-साथ जिला मुख्यालय नाहन का चौगान, चंबा मैदान और पांवटा साहिब के गुरुद्वारा मैदान को खेलकूद गतिविधियों के लिए आगामी आदेशों तक बंद कर दिया गया है। साथ ही सिनेमा हाल, स्वीमिंग पूल, व्यायाम शालाएं, स्पोर्ट्स कांप्लेक्स, जिम और मल्टीप्लेक्स, सभी सामाजिक, शैक्षणिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, राजनीतिक, धार्मिक व अन्य सभाओं जैसे विवाह स्थलों, बैंक्वेट हॉल सहित सभी इंडोर तथा सभी खुले में आयोजित कार्यक्रमों में कोविड एसओपी के अनुसार 50 प्रतिशत क्षमता के साथ अनुमति होगी।

इसके अतिरिक्त, श्रद्धालुओं को मंदिरों व अन्य तीर्थ स्थानों पर में प्रसाद और नारियल आदि चढ़ाने पर भी में पाबंदी लगाई गई है। आदेशों के अनुसार जिले में सभी तरह को आपातकालीन व आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। 

 उपायुक्त सिरमौर रामकुमार गौतम ने जिलावासियों से अपील की है कि वह कोविड नियमों का सख्ती से पालन करें। मास्क का सही तरीके से इस्तेमाल करें व भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से परहेज रखें।