उपायुक्त डॉ निपुण जिन्दल ने ज्वालामुखी मंदिर के विकास कार्यों का किया निरीक्षण

उपायुक्त डॉ निपुण जिन्दल ने ज्वालामुखी मंदिर के विकास कार्यों का किया निरीक्षण

अधिकारियों को लंबित कार्यों को समय पर पूरा करने के दिए निर्देश
   

धर्मशाला, 8 सितम्बर उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल ने आज ज्वालामुखी मंदिर के विभिन्न विकास कार्यों का निरीक्षण किया और संबंधित कर्मचारियों को विकास कार्यों को समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिये ताकि श्रद्धालुओं को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा सकें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि विकास कार्यों की सुचारू मॉनिटरिंग भी सुनिश्चित की जाए तथा कार्यों की गुणवत्ता का भी विशेष ध्यान रखा जाए। इस अवसर पर उन्होंने अधिकारियों तथा मंदिर ट्रस्टियों सहित मंदिर परिसर का निरीक्षण किया।
 

उन्होंने कहा कि प्रतिवर्ष देश-विदेश से लाखों की संख्या में श्रद्धालु शक्तिपीठ ज्वालामुखी के दर्शन के लिये आते हैं। श्रद्धालुओं को अधिक से अधिक से सुविधाएं प्रदान करने के लिये विकास कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि धूना मंदिर के अंदर संगमरमर के कार्य, सत्संग भवन में टाईल्स, परिक्रमा पथ के लिये पुल, एलईडी और ध्वनि प्रसार यंत्रों के कार्यों की समीक्षा की गई। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही मंदिर गेट के साथ कैनोपी का निर्माण करवाया जायेगा जिससे श्रद्धालुओं को धूप और बरसात के समय में दर्शनों करने में सुविधा मिलेगी। उपायुक्त ने कहा कि मंदिर परिसर के सौंदर्यीकरण के लिए गर्भगृह और मंदिर प्रांगण के संगमरमर को भी बदला जायेगा।
डॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि मंदिर परिसर में मोदी हॉल के ऊपर म्यूजियम बनाया जायेगा। इसके साथ ही पार्किंग को भी शीघ्र नीलाम करने के निर्देश दिये गये हैं।
इस अवसर पर एडीएम रोहित राठौर, एसडीएम धर्मवीर ठाकुर, मंदिर अधिकारी निर्मल कुमार, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग दिनेश धीमान, अधिशासी अभियंता आईपीएच राजेश, अधिशासी अभियंता एचपीएसईबी कुलदीप सिंह राणा सहित मंदिर के ट्रस्टी एवं अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।