सोलर लाइटों से जगमग हो रहे सिरमौर के गांव, 2571 लाइटें लगाई जा रही

सोलर लाइटों से जगमग हो रहे सिरमौर के गांव, 2571 लाइटें लगाई जा रही

वर्तमान वित्त वर्ष में 6500 स्ट्रीट लाइटें लगाने का है प्रस्ताव 

 

2020-2021 में 4.35 करोड़ रुपए के सौर ऊर्जा आधारित उपकरण करवाए लोगों को उपलब्ध

 

नाहन 10 जुलाई - ऊर्जा के स्वच्छ एवं सर्वोत्तम विकल्प के रूप में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए हिमाचल प्रदेश राज्य ऊर्जा विकास अभिकरण (हिम ऊर्जा) लगातार प्रयासरत है, जिसके लिए जिला सिरमौर में विभाग द्वारा वित्त वर्ष 2020-21 में लगभग 4 करोड़ 35 लाख रुपए के सौर ऊर्जा आधारित उपकरण लोगों को उपलब्ध करवाए गए हैं। वर्तमान वित्त वर्ष में 6500 स्ट्रीट लाइटें लगाने का प्रस्ताव हिम ऊर्जा निदेशालय को भेजा गया है जिसे निदेशालय के माध्यम से भारत सरकार को स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा।

यह जानकारी परियोजना अधिकारी हिम ऊर्जा ओम प्रकाश ने देते हुए बताया कि कुल 2571 लाइटें, जिनका मूल्य 4,34,92,025 रुपए है, इनमें से 32,35,000 रूपए विभिन्न ग्राम पंचायतों से प्राप्त हुए और कुल 2,99,36,000 रुपए की सब्सिडी जिसमें 2,91,15,000 रूपए केन्द्र सरकार से और 8,21,000 रुपए राज्य सरकार से प्राप्त हुई। इसके अतिरिक्त, 1,03,21,025 रूपए 14वें वित्त आयोग के माध्यम से ग्राम पंचायतों से प्राप्त हुए।

उन्होंने बताया कि जिला में राष्ट्रीय सोलर मिशन के अंतर्गत दो प्रकार की 1800 सोलर लाइटें अनुदान पर प्रदान की जा रही हैं। मिशन के अतंर्गत लाभार्थियों को 17300 रुपए प्रति लाइट के हिसाब से 1600 लाइटें तथा दूसरी प्रकार की 200 लाइटें 23350 रुपए की लागत से 90 प्रतिशत अनुदान पर उपलब्ध करवाई गई हैं। इस मिशन में विभाग द्वारा 3 करोड़ 23 लाख 50 हजार रुपए व्यय किए जा चुके हैं। इस मिशन के तहत लोगों के घरद्वार पर सोलर लाइट स्थापित की जाती है, जिसमें उन्हें सरकार द्वारा 90 प्रतिशत अनुदान भी प्रदान किया जाता है।

परियोजना अधिकारी ने बताया कि 14वें वित्त आयोग में 1 करोड़ 03 लाख 21 हजार रुपए की लागत से 715 लाइटें 14435 रुपए प्रति लाइट के हिसाब से पंचायतों को उपलब्ध करवाई गई हैं। इस राशि का भुगतान पंचायतों द्वारा किया गया है। इसी प्रकार, अनुसूचित जाति उप योजना के तहत अनुसूचित जाति बहुल पंचायतो को 8 लाख 21 हजार रुपए की लागत से 56 सोलर लाईटें 100 प्रतिशत अनुदान पर वितरित की जा चूकी हैं।

उन्होंने बताया कि ऑफ ग्रिड योजना के तहत नाहन न्यायालय परिसर में 12 लाख रुपए की लागत से 10 किलोवाट का एक सोलर प्लांट न्यायालय की ओर से दी गई राशि द्वारा स्थापित किया गया है।

ओम प्रकाश ने बताया की विभाग द्वारा लोगों को जिला में 32 सोलर कुकर 3255 रुपए प्रति कुकर के हिसाब से तथा 2 डिश टाइप सोलर कुकर 7122 रुपए प्रति कुकर के हिसाब से लोगों को प्रदान किए जा चुके हैं ताकि लोगों के घरों में ईंधन की बचत हो सके। इसके अतिरिक्त, सोलर थर्मल योजना के अतंर्गत जिला में 26775 रुपए प्रति गीजर के हिसाब से 200 लीटर क्षमता के 3 सोलर गीजर 30 प्रतिशत अनुदान पर प्रदान किए गए हैं जिसमें प्रत्येक लाभार्थी को 7650 रुपए का अनुदान प्रदान किया गया हैं।