हिमाचल की चुनावी डोज ने किया कुछ सस्ता डीजल-पेट्रोल, अब यूपी व बाकी स्टेटों की जनता बीजेपी को देगी दूसरी डोज : राजेंद्र राणा

हिमाचल की चुनावी डोज ने किया कुछ सस्ता डीजल-पेट्रोल, अब यूपी व बाकी स्टेटों की जनता बीजेपी को देगी दूसरी डोज : राजेंद्र राणा

झनियारा में विकास कार्यों के लिए दिए 4 लाख व 10 सोलर लाईटें

सुजानपुर 13 सितंबर

हर संभव व यथाशक्ति एक्टिव रहने वाले प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष व सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने झनियारा ग्राम पंचायत के रकडयाल गांव में जन समस्या समारोह में जहां शनिवार को जनता की समस्याएं सुनी वहीं विभिन्न विकास कार्यों के लिए 4 लाख रुपए की घोषणाएं भी की, जिनमें 1 लाख रुपये शिव मंदिर से लकुई गांव के रास्ते के लिए, 1 लाख रुपये कोहलड़ी गांव से अध्वानी के रास्ते के लिए, 2 लाख रुपये महिला मंडल भवन कोहलड़ी के लिए व 10 सोलर लाईटें देने की घोषणा की।

राणा ने झनियारा में जनसभा में बोलते हुए कहा कि आम आदमी के असली झंझट की वजह सिर्फ और सिर्फ बीजेपी है। जो कि जनता द्वारा दी गई सत्ता का दुरुपयोग करते हुए निरंतर जनता के लिए नई आफतें तैयार कर रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के उपचुनावों में मिले इंजेक्शन की डोज से बीजेपी ने डीजल-पेट्रोल को कुछ सस्ता किया है। हालांकि 50 रुपए बढ़ाकर 5-10 रुपए कम करना भी एक तरह से जनता से दगा है। लेकिन अब यूपी व अन्य राज्यों की चुनावी डोज से रसोई गैस के सस्ते होने की उम्मीद की जा सकती है।

राणा ने कहा कि बीजेपी राजनीतिक पार्टी न होकर एक कारोबारी संस्था बन चुकी है। जो कि नफे-नुकसान के आधार पर राजकाज चला रही है। जनता पर महंगाई, बेरोजगारी का निरंतर बोझ लादकर बीजेपी आम आदमी की चिंता न करते हुए कॉर्पोरेट सेक्टर की पैरवी व वकालत में लगी है।

उन्होंने प्रदेश सरकार पर हल्ला बोलते हुए कहा है कि अब गरीब जनता को डिपुओं में पैसे देकर इतना घटिया राशन मिल रहा है जो कि पशुओं के चारे के सामान है। उन्होंने कहा कि सरकार डिपुओं में आटा, तेल, चावल के साथ घटिया खाद्यान देकर जनता की सेहत से खिलवाड़ कर रही है, जिसको देखकर लग रहा है कि सरकार को जनता की सेहत की बजाय सप्लायरों की आर्थिक सेहत की ज्यादा चिंता है। इस अवसर पर ग्राम पंचायत झनियारा के प्रधान रत्न चंद, उपप्रधान ओम प्रकाश, पंचायत प्रतिनिधि पुष्पा, रीना, दिलेर सिंह,  विकास, कर्नल किशन, बूथ प्रधान विजय सोनी, कैप्टन लाल सिंह, वासुदेव आदि गणमान्य नागरिकों के साथ झनियारा ग्राम पंचायत व इसके आसपास के क्षेत्रों की जनता बड़ी संख्या में मौजूद रही।