प्रदेश में एनएच तो बने नहीं लेकिन एनएच के नाम पर बीजेपी ने खर्च कर दिए करोड़ों : राजेंद्र राणा

Breaking News

प्रदेश में एनएच तो बने नहीं लेकिन एनएच के नाम पर बीजेपी ने खर्च कर दिए करोड़ों : राजेंद्र राणा

विधानसभा चुनावों की दस्तक को देखकर फिर झूठे झांसे व जुमले बनाने के प्रयोग में जुटी है बीजेपी

जनता को रहना होगा खबरदार अन्यथा बीजेपी फिर से ले सकती है झूठ का सहारा

 

हमीरपुर 15 दिसंबर

लोकतंत्र में बीजेपी के नए प्रयोग के कारण देश व प्रदेश झूठ की चपेट में है। राष्ट्रवाद के नाम पर फर्जीवाद व पूंजीवाद को प्रमोट करने में लगी बीजेपी का पूरा फोक्स पार्टी बचाने को लेकर है। इस मुहीम को सिरे चढ़ाने के लिए बीजेपी देश बचाने के नाम पर इसे अंजाम दे रही है। यह बात राज्य कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं विधायक राजेंद्र राणा ने यहां जारी प्रेस बयान में कही है। राणा ने कहा कि झूठ और झांसों के दम पर सत्ता कायम करने में सफल रही बीजेपी ने अब लोकतंत्र में जनता द्वारा जनता के लिए जनता का शासन परिभाषा को बदलकर झूठ द्वारा झूठ के लिए झूठ का शासन कायम करने पर फोक्स किया है। जिसमें देश को नहीं पार्टी को बचाने की मुहीम बीजेपी चला रही है। राणा ने कहा कि विधानसभा चुनावों से पहले प्रदेश की जनता को गुमराह करते हुए बीजेपी ने हिमाचल में 69 एनएच बनाने का झूठा वायदा किया और इस झूठ के झांसें में जनता से जनादेश ठगने का सफल प्रयोग किया। लेकिन उसके बाद आज तक उन 69 नेशनल हाईवे का कोई अता-पता नहीं है। राणा ने कहा कि बीजेपी के ही कुछ लोगों व पीडब्लयूडी विभाग से मिली फीडबैक के मुताबिक इन एनएच को बनाने के नाम पर करोड़ों रुपया चेहतों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार ने फूंका है। राणा ने कहा कि बीजेपी के मित्रों व विभागीय लोगों से छन-छन कर आ रही सूचनाएं बता रही हैं कि इन एनएच की कंसल्टेंसी सर्विस को डीपीआर बनाने के नाम पर करोड़ों रुपए खर्च किए गए हैं। करीब 200 करोड़ रुपए से ज्यादा डीपीआर बनाने पर खर्च किया गया। बाद में फिजीबिल्टी न होने के नाम पर इस सारे मामले के फॉर क्लोजर के फरमान जारी किए गए और अब यह तमाम डीपीआर फाइलें संबंधित मिनिस्ट्री की फाइलों में धूल फांक रही है। राणा ने कहा कि झूठ की अविष्कारक बीजेपी सरकार की इससे बड़ी और क्या नाकामी हो सकती है कि जनता के साथ झूठा वायदा करने के बाद बीजेपी ने एनएच तो बनाए नहीं लेकिन एनएच की डीपीआर बनाने पर कर्जे में डूबे प्रदेश के करोड़ों रुपए खर्च कर दिए। राणा ने कहा कि जानकारी यह भी है कि बाहरी राज्यों की डीपीआर बनाने वाली कन्सल्टेंसी सर्विसेज फर्मों की डीपीआर सम्मिट होते ही इन लोगों को करोड़ों का भुगतान भी कर दिया गया। उन्होंने कहा कि अब विधानसभा चुनाव नजदीक आते देख फिर करोड़ों रुपए खर्च करके बीजेपी जनता को गुमराह करने के मंसूबे बनाने में लगी है। जिसके लिए कई विज्ञापन एजेंसियों से संपर्क किया जा रहा है। ग्राउंड में जीरो व झूठे वायदों के प्रचार में हीरो बीजेपी की चाल से अब जनता को खबरदार रहने की जरूरत है। क्योंकि बीजेपी अब फिर एक बार झूठ और झूठे वायदों के दम पर प्रदेश में सत्ता कायम करने के मंसूबे बना रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी के झूठ के मंसूबों व नापाक इरादों से जनता को सचेत रहना होगा। अन्यथा बीजेपी के झूठ के प्रयोग फिर से आम आदमी के लिए घातक साबित हो सकते हैं।



Categories