मानव भारती फर्जी डिग्री कांड, सीबीआई जांच या हर जिले में विरोध प्रदर्शन : राजेंद्र राणा

मानव भारती फर्जी डिग्री कांड की सीबीआई से नहीं हुई जांच तो कांग्रेस हर जिला मुख्यालय पर करेगी विरोध प्रदर्शन : राणा
 
 
बीजेपी के पूर्व मुख्यमंत्री शांता भी सीबीआई से चाहते हैं फर्जी डिग्री कांड की जांच, कहा कि शांता जांच से नहीं हैं संतुष्ट
 
वह कौन है जिसको बीजेपी सरकार बचाना चाह रही है और फर्जी डिग्री कांड के तथ्यों को छिपाना चाह रही है
बीजेपी ने जनता का जीना किया दुश्वार
 
हमीरपुर 16 सितंबर
 
मानव भारती विश्वविद्यालय फर्जी डिग्री कांड को लेकर उग्र हुई हमीरपुर कांग्रेस ने हमीरपुर द मॉल सड़क पर जन आक्रोश रैली निकाली। बीजेपी की तर्ज पर धीरे-धीरे मजबूत विपक्ष के तौर पर सरकार को घेर रही कांग्रेस अब जनता से जुड़े हर मुद्दे को लेकर बीजेपी सरकार पर चोट कर रही है। जन आक्रोश रैली में हमीरपुर कांग्रेस के सभी छोटे-बड़े नेता शामिल हुए। इस दौरान गांधी चौक पर कांग्रेस नेताओं के संवाद के निशाने पर बीजेपी सरकार रही। फर्जी डिग्री कांड की सीबीआई से जांच की मांग करते हुए तमाम कांग्रेस नेताओं ने सरकार को निशाने पर रखा। इसी बीच जिला कांग्रेस ने डीसी हमीरपुर के माध्यम से मानव भारती फर्जी डिग्री कांड की सीबीआई से जांच करवाने के लिए राष्ट्रपति को ज्ञापन भी भेजा।
 
 
 
 
जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेंद्र जार की अध्यक्षता में व सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा के सहयोग से आयोजित की गई इस जन आक्रोश रैली की विशेषता यह रही कि इस रैली में प्रदेश कांग्रेस महासचिव एवं बड़सर विस क्षेत्र के विधायक इंद्रदत्त लखनपाल, कांग्रेस की वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक अनीता वर्मा, प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता प्रेम कौशल, प्रदेश कांग्रेस सोशल मीडिया के चेयरमैन व प्रवक्ता अभिषेक राणा, पूर्व विधायक कुलदीप सिंह पठानिया सहित करीब-करीब सभी पदाधिकारियों ने भाग लिया। हमीरपुर के गांधी चौक में जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेंद्र जार ने सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि जन हित के हर मुद्दे और मामले पर बीजेपी सरकार हर मोर्चे पर फेल और फ्लॉप हुई है। उन्होंने कहा कि फर्जी डिग्री कांड से शर्मसार देवभूमि इसकी जांच सीबीआई से करवाने की मांग करती है, जिसकी पैरवी कांग्रेस पार्टी भी कर रही है। सरकार सीबीआई से जांच करवाए अन्यथा जन आक्रोश का सामना करने को तैयार रहे। 
 
 
 
 
गांधी चौक में रैली को संबोधन देते हुए कांग्रेस नेताओं ने कहा कि जहां प्रदेश में महंगाई व महामारी से आम नागरिक का जीवन आफत में है वहीं करोड़ों के फर्जी डिग्री कांड की जांच सीबीआई को सौंपने की बजाय सरकार इस लाखों-करोड़ों के घोटाले के असली गुनाहगारों को बचाने व असलीयत को छिपाने का प्रयास कर रही है। 
 
 
इस जन आक्रोश रैली के मुख्य किरदार राज्य कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा के साथ अन्य कांग्रेसी नेताओं ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर फर्जी डिग्री कांड की सीबीआई से जांच करवाने में सरकार नाकाम रहती है तो कांग्रेस पार्टी हर जिला मुख्यालय पर इस मुद्दे पर विरोध प्रदर्शन करने पर विवश होगी। राणा ने कहा कि फर्जी डिग्री मामला गत वर्ष ही कांग्रेस के सामने आया था। जिसको लेकर कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा से लेकर सड़क तक इस मुद्दे की जांच सीबीआई से करवाने की बार-बार मांग रखी। मीडिया के माध्यम से भी यह मांग उठाई गई। राणा ने कहा कि जब निजी विश्वविद्यालय दुकानों की तरह खोले जा रहे थे तब भी कांग्रेस ने इसका पुरजोर विरोध किया था लेकिन बीजेपी की सरकार होने के कारण कांग्रेस की मांगों को अनदेखा किया गया था। राणा ने कहा कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता व पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार प्रदेश सरकार द्वारा गठित एसआईटी की जांच से कतई संतुष्ट नहीं हैं। वह भी इस मामले की जांच सीबीआई से चाहते हैं। क्योंकि शांता कुमार जानते हैं कि लाखों-करोड़ों के इस घोटाले के असली गुनाहगार कौन हैं और फर्जी डिग्री सेल के मामले में किस-किस ने हाथ रंगे हैं।
बॉक्स
सीबीआई से फर्जी डिग्री कांड की जांच के मुख्य मुद्दे के साथ-साथ बड़सर विस क्षेत्र के विधायक इंद्रदत्त लखनपाल व पूर्व विधायक हमीरपुर सदर अनीता वर्मा ने भी सरकार पर जमकर निशाने साधे। कहा कि जिस जनता को साथ लेकर बीजेपी ने सत्ता हासिल की थी उस जनता का जीना सरकार ने दुश्वार कर दिया है। आम आदमी का भरोसा सरकार और सिस्टम से उठ चुका है।