सुजानपुर में अवैध खनन पर गुंडा टैक्स वसूली का मामला पहुंचा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के दरबार

Breaking News

सुजानपुर में अवैध खनन पर गुंडा टैक्स वसूली का मामला पहुंचा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के दरबार

धौलासिद्ध प्रोजेक्ट में जमीनों की खरीद को लेकर पूर्व एचएएस अधिकारी भी आरोपों के घेरे में

"समझा जा रहा है कि सरकार के कड़े रुख व जनता के विद्रोह को देखते हुए अवैध खनन माफिया के गुंडा टैक्स को लेकर बीजेपी संगठन के पदाधिकारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो सकती है। लोगों ने अपनी शिकायत में कहा है कि जो लोग बीजेपी के इस कथित नेता को गुंडा टैक्स दे देते हैं, उन पर कोई कार्रवाई नहीं होती है। लेकिन जो खनन माफिया के सरगना को गुंडा टैक्स देने में आना-कानी करते हैं, उनके टै्रक्टर, टिप्पर चालकों की बेखौफ पिटाई की जाती है और उनके वाहनों के जबरन चालान करवाए जाते हैं।"

 

सुजानपुर 18 जनवरी

सुजानपुर के जोल, पलाही में दरिया में जबरन लगाए जा रहे स्टोन क्रशर के मामले ने तूल पकड़ लिया है। स्थानीय जनता इस स्टोन क्रशर को लगाए जाने का जबरदस्त विरोध कर रही है। लोगों ने किसी भी सूरत पर यहां स्टोन क्रशर न लगाने की चेतावनी दी है। जबरन स्टोन क्रशर लगाने व अवैध खनन पर गुंडा टैक्स वसूले जाने के साथ ही एक रिटायर्ड एचएएस अधिकारी द्वारा धौलासिद्ध प्रोजेक्ट में जमीनों की दलाली को लेकर सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा से स्थानीय जनता ने शिकायत की है। जनता के विरोध व विद्रोह को देखते हुए यह मामला बीते रोज विधायक प्राथमिकता बैठक में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के समक्ष राजेंद्र राणा ने उठाया है। जिस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने स्टेट डायरेक्टर जनरल पुलिस को इस मामले में कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

हिमाचल प्रदेश में बारिश-बर्फबारी से ठंड बढ़ेगी

https://himsatta.com/news/himsatta-news-18-january-2022-guid-991398

समझा जा रहा है कि सरकार के कड़े रुख व जनता के विद्रोह को देखते हुए अवैध खनन माफिया के गुंडा टैक्स को लेकर बीजेपी संगठन के पदाधिकारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो सकती है। लोगों ने अपनी शिकायत में कहा है कि जो लोग बीजेपी के इस कथित नेता को गुंडा टैक्स दे देते हैं, उन पर कोई कार्रवाई नहीं होती है। लेकिन जो खनन माफिया के सरगना को गुंडा टैक्स देने में आना-कानी करते हैं, उनके टै्रक्टर, टिप्पर चालकों की बेखौफ पिटाई की जाती है और उनके वाहनों के जबरन चालान करवाए जाते हैं। जबरन चालान मामले में सुजानपुर पुलिस पर भी उंगली उठी है। लोगों का आरोप है कि जो वाहन चालक खनन माफिया सरगना को गुंडा टैक्स नहीं देते हैं उनके जबरन चालान किए जाते हैं। हालांकि अवैध खनन माफिया सरगना के पास किसी प्रकार की सरकारी लीज नहीं है। फिर भी इस मामले में गुंडा टैक्स वसूला जाता है। दिलचस्प यह है कि उक्त आरोपों को लेकर बीजेपी के लोग ही बीजेपी के खिलाफ मुखर हुए हैं। यह दीगर है कि अब यह शिकायत लोगों ने विधायक राजेंद्र राणा को की है। लोगों का कहना है कि वह इस मामले को लेकर वह पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल से भी गुहार लगा चुके हैं। लेकिन गुहार के बावजूद उनकी एक नहीं सुनी गई है।



Categories