शिक्षा लंगर कार्यक्रम से पीसीएस उम्मीदवारों को सफलता की प्राप्ति

रैंक 1 उपिंदरजीत कौर बरार सहित टॉप 10 स्थानों में से 6 स्थान चेतन भारत लर्निंग (सीबीएल) द्वारा आयोजित पीसीएस कोर्स से हैं

चण्डीगढ़ :

चेतन भारत लर्निंग एक लर्निंग प्लेटफॉर्म है जिसका उद्देश्य शिक्षा के परिदृश्य को सतत तीव्रता के साथ जन-जन तक पहुंचाना है। इसका मुख्य उद्देश्य गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को उपलब्ध, वहनीय और सुलभ बनाना है।


कोविड महामारी की शुरुआत के बाद, अधिकांश छात्रों को वित्तीय और संसाधनिक बाधाओं के कारण प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में कई समस्याओं का सामना करना पड़ा। ऐसे समय में सीबीएल टीम ने पीसीएस 2020 परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए एक निःशुल्क कोर्स शुरू करने का फैसला किया, जिसे पंजाब पीसीएस फ्री लंगर सेवा के नाम से लोकप्रियता प्राप्त हुई।


यह पहल 5 जून 2020 को शुरू की गई थी, जिसमें पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा की विस्तृत तैयारी कराना शामिल था। इस पहल के द्वारा 25 हजार से भी अधिक उम्मीदवारों को लाभ मिला और लगभग 250 से अधिक छात्रों ने पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा पास भी की।

 


12 मार्च 2021 को पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा में सफल परिणाम प्राप्त करने के बाद, सीबीएल टीम ने 15 मार्च को प्रारंभिक परीक्षा परिणाम और मुख्य परीक्षा के बीच कम समय होने के बावजूद पूरे उत्साह और जोश के साथ निःशुल्क  पीसीएस मुख्य परीक्षा बैच शुरू किया।


पीसीएस मुख्य परीक्षा का परिणाम सामने आया और इसमें प्राप्त सफलता से अत्यधिक उत्साहित होकर सीबीएल टीम ने साक्षात्कार की तैयारी के लिए भी एक कार्यक्रम शुरू किया। इस कार्यक्रम में ऑन-कैमरा मॉक साक्षात्कार लिए गए।


इसमें पूर्व नौकरशाहों एवं कई प्रतिष्ठित हस्तियों को उम्मीदवारों के साथ पारस्परिक विमर्श करने के लिए आमंत्रित किया गया।


इस कार्यक्रम के द्वारा अंततः उन छात्रों को अत्यधिक लाभ मिला जो कि महामारी के चलते परेशान थे और टीम सीबीएल भी कई अन्य सफलताओं के अलावा शीर्ष 10 स्थानों  में से 6 स्थान हासिल करने में भी सफल रही,

जिसमें रैंक 1- उपिंदरजीत कौर बरार,

रैंक 3- सचिन पाठक,

रैंक 4- महक मित्तल,

रैंक 6- गुरलीन,

रैंक -7 सुजावल जग्गा,

और रैंक 10- करमजोत सिंह शामिल हैं।


ईएसएम श्रेणी में, एपीएस सोमल और इरवान कौर ने क्रमशः रैंक 2 और रैंक 3 हासिल की।


खेल वर्ग में चंदनदीप सिंह ने सफलता प्राप्त की।


बीसी वर्ग में मोनिका सैनी और पीरपाल सिंह ने सफलता प्राप्त की।


टीम सीबीएल ने हरियाणा एचसीएस (कार्यकारी) के लिए भी अपनी यह निःशुल्क पहल जारी रखी है। इसके लिए पाठ्यक्रम 3 मार्च, 2021 को शुरू किया गया। 22 अगस्त, 2021 को होने वाली परीक्षा के लिए 40,000 से अधिक छात्र इसका लाभ उठा रहे हैं।