सांसद श्वेत मलिक ने किया हाई मास्ट लाइटों व ओपन जिम का लोकार्पण।

Breaking News

सांसद श्वेत मलिक ने किया हाई मास्ट लाइटों व ओपन जिम का लोकार्पण।

अमृतसर,  ( राहुल सोनी ) राज्यसभा 
सांसद  सांसद व पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्वेत मलिक ने विश्व प्रसिद्द गुरुद्वारा साहिब श्री शहीदां साहिब के बाहर व डेरा बाबा कश्मीरा सिंह जी भूरी वाले में हाई मास्ट लाइटों का शुभ आरम्भ किया जिस से सारा वातावरण रोशनी से जगमगा उठा l इसी के साथ सांसद मलिक ने रंजीत ऐवन्यू स्थित स्वामी दयानन्द पार्क में भी ओपन जिम का लोकार्पण किया। इस अवसर पर गुरबक्श सिंह, मंदीप सिंह मन्ना, डा हरविंद्र सिंह संधू, गौतम अरोड़ा, मोनू महाजन, उमेश सरीन सतीश अग्रवाल , मंजीत सिंह व अन्य इलाका निवासी उपस्थित थे।
सांसद मलिक ने बताया की यह गुरुद्वारा श्री शहीदां साहिब पवित्र धार्मिक स्थल है और यहां लाखों श्रद्धालु आते है। उन को सुविधा देने के लिए उन्होंने यह लाइट लगवाने का फैसला किया। मलिक ने बताया के इस गुररुद्वारा के साथ उनकी आस्था बचपन से जुडी हुई है इसीलिए उन्होंने अपने सांसद निधि कोष से यह लाइटें लगवाई। इस पवित्र गुरुद्वारा साहिब के निकट है बाबा श्री कश्मीरा सिंह जी भूरी वालों का डेरा जहां मलिक ने आने वालो को सुविधा देने के लिए हाई मास्क लाइट व ओपन जिम लगवाने का फैसला किया। इस से डेरे का सारा परिसर जगमगा उठा। मलिक ने बताया की उनके द्वारा शहर के पार्कों में उनके द्वारा ओपन जिम लगवाए जा रहे है  मलिक ने कहा की वो आशा करते है के वाहेगुरु हमारे प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को अच्छा स्वास्थ्य व् लम्बी आयु दे जिस से वह नए भारत के निर्माण के सपने को बाखूबी पूरा कर सके। 
 
 
मलिक ने अमृतसर के विकास पर रौशनी डालते हुए बताया की उनके सांसद बनने के बाद पुरे अमृतसर में 2000 करोड़ की लागत से विकास करवाया। हाल ही में उनके प्रयासों से जलियावाला बाग का नवीनीकरण व सौंदर्यकरण का कार्य पूरा हुआ जिसका उद्घाटन देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने किया । उन्हें प्रधानमंत्री का स्वागत करने का सुअवसर मिलाlअमृतसर एयरपोर्ट पर 500 करोड़ का विकास हुआ । मलिक ने प्रधान मंत्री  नरेंद्र मोदी स हरदीप सिंह पूरी (केंद्रीय विमान सेवा मंत्री ) का धन्यवाद किया जिनके सहयोग से आज अमृतसर एर्पोर्ट देश का सबसे तेज़ी से विकसित होने वाला एयरपोर्ट बन गया है। मलिक ने कहा कि अमृतसर रेलवे स्टेशन को वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनाने का प्रस्ताव उनके प्र्यासों से ज़ारी हुआ। मलिक ने वाघा  बॉर्डर पर व्यापार बढ़ाने के लिए ट्रक स्केनर लगवाया व 25000 लोगो के बैठने के लिए गैलरी व् एक लाख वर्ग फुट का शेड बनवाया ।