हिमाचल प्रदेश में बारिश ने किया लोगों का जीना मुश्किल, 

Breaking News

हिमाचल प्रदेश में बारिश ने किया लोगों का जीना मुश्किल, 

हिमाचल में बारिश की तबाही ने मुश्किल के हालात बना दिए हैं. लगातार होती बारिश ने लोगों के रोज के काम काज पर असर डाला है. लोगों के घरों को काफी नुकसान हुआ है और प्रदेश के लोग अब दहशत में आ गए हैं. 
 
मानसून की इस सक्रियता के साथ पिछले 6 दिन से लोगों का बुरा हाल है. प्रदेश में फिर से ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया है. 
मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने 25 और 26 जुलाई को प्रदेश में भारी बारिश की संभावना जताई है. 25 जुलाई तक प्रदेश में येलो और 26 जुलाई को भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. 28 जुलाई तक पूरे प्रदेश में मौसम खराब बने रहने का पूर्वानुमान है. ऐसे में लोगों में दहशत का माहौल है. इससे पहले, मंडी, शिमला, बिसालपुर सहित दूसरे जिलों में गुरुवार को दोपहर बाद बारिश हुई. शिमला शहर में 23 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है. बिलासपुर जिले के कई हिस्सों में दोपहर बाद आधा घंटा बारिश हुई. चंबा जिले में डलहौजी में 3 मार्ग बाधित रहे. भूस्खलन से कुल्लू जिले में छह सड़कें बंद रहीं. कांगड़ा जिले में शाम को धर्मशाला, बैजनाथ, पालमपुर, डरोह, ज्वालामुखी और पंचरुखी में तेज बारिश हुई. सूबे में धान और मक्की के लिए बारिश लाभदायक है. 
 
मानसून की बारिश ने हिमाचल मे जम कर अपना केहर दिखाया है. पिछले 24 घंटों में प्रदेश की कई सडकें बंद पड़ी हैं, प्रदेश में बारिश के कारण जम कर तबाही हुई है. लोग अब ज्यादा डर कर जी रहे हैं. प्रदेश के लोगों ने इस बारिश में अपनों को भी खो दिया है. 
 
हम अपने समान की भरपाई तो कर लेते हैं पर अपनो को खोना सबसे बुरे कष्टों में से है. इसकी भरपाई कभी नहीं की जा सकती है.