डा निपुण जिंदल ने संभाला डीसी कांगड़ा का पदभार

आम जनमानस की समस्याओं का त्वरित निदान करने को प्राथमिकता

कोविड संक्रमण से निपटने के लिए जनसहभागिता करेंगे सुनिश्चित

शक्तिपीठों में व्यवस्थाओं के सुदृढ़ीकरण पर भी रहेगा जोर

 

धर्मशाला, 23 जून। 2014 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी डा निपुण जिंदल ने बुधवार को धर्मशाला में डीसी कांगड़ा का पदभार ग्रहण कर लिया। इससे पहले डा निपुण जिंदल हमीरपुर, रामपुर तथा शिमला में विशेष स्वास्थ्य सचिव तथा नेशनल हेल्थ मिशन में प्रबंध निदेशक के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके हैं।


    उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का सुचारू कार्यान्वयन उनकी प्राथमिकता रहेगी इसके साथ ही लोगों की समस्याओं का त्वरित समाधान सुनिश्चित करने के लिए भी पुख्ता कदम उठाए जाएंगे। इस के लिए आनलाइन सेवाओं को सुदृढ़ किया जाएगा।

 

उन्होंने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए आमजनमानस की सहभागिता भी सुनिश्चित की जाएगी इस के साथ ही ग्रामीण स्तर पर विकास कार्यों में पारदर्शिता लाने का प्रयास भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी को नशे से दूर रखने के लिए भी विभिन्न प्रकल्प आरंभ किए जाएंगे। डा निपुण जिंदल ने कहा कि कांगड़ा जिला में देश के तीन प्रमुख शक्तिपीठ ज्वालाजी, चामुंडा तथा ब्रजेश्वरी धाम हैं तथा इन मंदिरों में व्यवस्थाओं के सृदुढ़ीकरण के लिए उचित कदम उठाए जाएंगे इस के लिए कंप्यूटरीकरण पर जोर दिया जाएगा ताकि पारदर्शिता बनी रहे।

 

उन्होंने कहा कि राजस्व मामलों के त्वरित निदान के लिए भी उचित कदम उठाए जाएंगे तथा लंबित मामलों के शीघ्र निपटान के लिए प्रयास किए जाएंगे ताकि आम जनमानस को किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं झेलनी पड़े। उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर पंचवटी पार्कों के निर्माण तथा खेल मैदानों को विकसित करने के लिए भी प्लान तैयार किया जाएगा ताकि बच्चों को खेलकूद के बेहतर अवसर मिल सकें। उन्होंने कहा कि सभी सरकारी कार्यक्रमों एवं योजनाओं की नियमित समीक्षा की जाएगी ताकि शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल किए जा सकें।