मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना में व्यय होंगे 100 करोड़ : परमार 

मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना में व्यय होंगे 100 करोड़ : परमार 

चोम्बू में पंचवटी पार्क लोगों को समर्पित 

पालमपुर, 23 नवंबर :-  मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना में प्रदेश के युवाओं को स्वरोजगार की दिशा में प्रेरित करने के लिये 100 करोड़ रुपये व्यय करने का प्रावधान किया गया है।
यह जानकारी विधान सभा अध्यक्ष, विपिन सिंह परमार ने सुलाह हलके की ग्राम पंचायत गदियाड़ा में उद्योग विभाग द्वारा मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना पर एक दिवसीय कार्यशाला में बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 3 हजार से अधिक मामले बैंकों द्वारा स्वीकृत किये जा चुके हैं और इसमें 12 हजार से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर भी प्राप्त हुए हैं।
परमार ने कहा कि मुख्यमंत्री स्वावलंबी योजना प्रदेश सरकार महत्वकांशी योजना है। इसमें पात्रता आयु को 18 से 45 करने के साथ परियोजना लागत को 60 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ तक किया गया है।  इस योजना में जिला कांगड़ा में लाभार्थियों को लगभग 9 करोड़ रुपये का उपदान दिया जा चुका है। 
इससे पहले विधान सभा अध्यक्ष ने ग्राम पंचायत के गदियाड़ा के चोम्बू गांव में 9 लाख रुपये से बने पंचवटी पार्क का लोकार्पण किया और मुख्यमंत्री राहत कोष से 26 लाभार्थियों को 2 लाख 65 हजार के राहत राशि के चेक वितरित किये।  उन्होंने कहा कि  सुलाह विकास खण्ड में 17 से अधिक पंचवटी पार्क  बन कर तैयार किये गये हैं और इतनो पर ही काम चल रहा है।  
उन्होंने कहा कि आजादी को 75 वर्षगांठ को  पूरे देश मे अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा दर्जनों जन कल्याण की योनजाओं के माध्यम से लोगों को लाभान्वित किया जा रहा है।  उन्होंने कहा कि जरूरतमंद लोगों के उत्थान को प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है और प्रदेश सरकार के बेहतर कार्य से लोगों का सरकार के प्रति और विश्वास बड़ा है। 
उन्होंने कहा कि  महिलाओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन के लिये उज्ज्वला योजना की तरह प्रदेश में मुख्यमंत्री ग्रहिणी सुविधा योजना, स्वस्थय क्षेत्र में आयुष्मान की तर्ज पर हिमकेयर योजना से लोगों को लाभ दिया जा रहा है। उन्होंने  यहां एक ओपन एयर जिम, पंचवटी पार्क के सौंदर्यीकरण को दो लाख, जमीन उपलब्ध होने पर बड़ा सामुदायिक भवन और यहां उपस्थित महिला मंडलों को 11- 11 हजार देने की घोषणा की।
इससे पहले मुख्य प्रबंधक राजेश खरवाल ने मुख्यातिथि का स्वागत किया और मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना की विस्तृत जानकारी दी।उन्होंने कहा कि जिला कांगड़ा में लगभग 600 नए प्रोजेक्ट मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना में तैयार  हैं। इस योजना के तहत 156 प्रोजेक्ट्स को स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है और इसपर 4 करोड़ की सब्सिडी दी जा चुकी है।
इस अवसर पर  एलडीएम पंजाब नेशनल बैंक कुलदीप कौशल ने भारत सरकार की कल्याणकारीकारी योजना की जानकारी दी। उन्होंने सभी किसानों से किसान क्रेडिट कार्ड बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि पीएनबी बैंक घरद्वार किसानों के क्रेडिट कार्ड बनायेगा। उन्होंने प्रधान प्रधानमंत्री जीवन सुरक्षा योजना और प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना, अटल पेंशन अयोजन के लाभ बताये और सभी से इनका लाभ लेने की अपील की।
कार्यक्रम में  मंडल अध्यक्ष देश राज शर्मा, ज़िला अध्यक्ष हरिदत्त शर्मा,  उपाध्यक्ष बीडीसी राजेश मेहता, गदियाड़ा की प्रधान अंजना देवी, उपप्रधान ऋषि कुमार, बीड़ीसी सदस्य श्रेष्ठा देवी और गौरव चौधरी, सुभाष धीमान, मेहर चंद, शिव चरण  चौधरी, मुख्य प्रबंधक कमलदीप सिंह   बीडीओ सिकन्दर कुमार एसडीओ अनूप सूद, प्रबंधक उद्योग संदीप शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी और क्षेत्र के गणमान्य लोग उपस्थित रहे।