केजरीवाल ने मुख्यमंत्री नहीं राज्य में नशा बिक्री बढ़ाने हेतु ‘ब्रांड एंबेसडर’ चुना: जीवन गुप्ता

Breaking News

केजरीवाल ने मुख्यमंत्री नहीं राज्य में नशा बिक्री बढ़ाने हेतु ‘ब्रांड एंबेसडर’ चुना: जीवन गुप्ता

केजरीवाल का दिल्ली एजेंडा पंजाब को पूरी तरह नशा ग्रस्त बनाने का : जीवन गुप्ता

 

अमृतसर , ( राहुल सोनी )  भारतीय जनता पार्टी पंजाब के  महासचिव जीवन गुप्ता ने अरविन्द केजरीवाल द्वारा पंजाब में भगवंत मान को मुख्यमंत्री चेहरा घोषित किए जाने को लेकर जालंधर में आयोजित पत्रकारवार्ता के दौरान बातचीत करते हुए कहा कि केजरीवाल पंजाब को नशा-मुक्त नहीं बल्कि पूरी तरह नशा-ग्रस्त बनाने के अपने एजेंडे पर कार्य कर रहे हैं। केजरीवाल तथा उनके कुछ बचे हुए नेता बार-बार दिल्ली मॉडल को पंजाब में लागू करने की बात करते रहते हैं। गुप्ता ने आप नेताओं व जनता से सवाल किया कि आखिर केजरीवाल व आम आदमी पार्टी का दिल्ली मॉडल क्या है । जीवन गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल ने दिल्ली में शराब की दुकानों की संख्या बढ़ा कर 859 करने की घोषणा की थी जो कि दिल्ली में उनके मुख्यमंत्री बनने से पहले 220 थी। अब दिल्ली नगर निगम के हर वार्ड में शराब की दुकाने ग्रोसरी स्टोरज की तरह हो गई हैं। दूसरी तरफ केजरीवाल ने दिल्ली में शराब खरीदने वालों की उम्र सीमा भी 25 से घटा कर 21 वर्ष कर दी है। केजरीवाल दिल्ली में स्कूलों व कॉलेजों की सुरक्षा और संख्या बढ़ाने की तुलना में नशे को बढ़ावा देने में अधिक रुचि रखते हैं। गुप्ता ने कहा कि क्या केजरीवाल बचपन से नौजवानी की दहलीज पर पाँव रखने वाले हर युवा को नशे का आदि बनाना चाहते हैं? गुप्ता ने कहा कि क्या केजरीवाल दिल्ली में शराब को बढ़ावा देने के उनके मॉडल को अब पंजाब में भी लागू करने की योजना बना रहे हैं । जीवन गुप्ता ने आरोप लगाते कहा कि केजरीवाल ने पंजाब में एक शराबी को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित कर पंजाब के प्रति अपनी सोच को साबित कर दिया है। उन्होंने पंजाब में भगवंत मान को पंजाब में नशे का ब्रांड एंबेसडर नियुक्त कर दिया है। गुप्ता ने कहा कि नेता का कार्य नेतृत्व करना हैं यदि केजरीवाल में  नैतिकता की ज़रा भी समझ होती तो वो मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में किसी ईमानदार और परिपक्व व्यक्ति का चयन करते।

जीवन गुप्ता ने कहा कि पंजाब की आर्थिक स्थिति इस समय बहुत मुश्किल दौर से गुज़र रही है। पंजाब आज लगभग तीन लाख करोड़ के क़र्ज़ तले दबा हुआ है। जो पंजाब पहले नंबर पर था आज 16वें नंबर पर आ चुका है। पंजाब एक 600 कि.मी. लम्बी सीमा वाला सीमावर्ती राज्य है और कुछ अंतरराष्ट्रीय ताकतें हैं इसे बर्बाद करने पर तुली हुई हैं। गुप्ता ने कहा कि पंजाब की सबसे बड़ी समस्या नशा है  इसे खत्म करने की बजाए आम आदमी पार्टी ने पंजाब में एक ऐसे चेहरे को मुख्यमंत्री ऐलान किया है, जो हमेशा नशे में रहता है। पंजाब की जनता को नशे से मुक्ति चाहिए, नशा करने वाला लीडर नहीं। जीवन गुप्ता ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के पास आर्थिक सुधार का रोड मैप तैयार है और वो पंजाब में सत्ता में आने पर उसे लागू करेगी। इस सब के लिए हम सब पंजाबियों को एक सुरक्षित पंजाब के लिए इकट्ठे होकर वोट करना होगा। गुप्ता ने कहा कि अपने राष्ट्र के प्रति यह हमारा नैतिक कर्तव्य भी है कि हम अपना वोट उन्हें न दें, जिन राजनीतिक दलों में जन-विरोधी और राष्ट्र-विरोधी प्रवृत्ति हो। इस अवसर पर प्रदेश भाजपा महासचिव राजेश बागा इत्यादि उपस्थित थे।



Categories