हिमाचल प्रदेश में मौसम बना मुसीबत, लोग परेशान,

Breaking News

हिमाचल प्रदेश में मौसम बना मुसीबत, लोग परेशान,

हिमाचल में मौसम के कारण बड़ी मुसीबतें, प्रदेश मे कई जगहों में बिजली-पानी की किल्लत,  अब तक करीब 100 की मौत, कई करोड़ का इस मौसम में हुआ नुकसान

 

हिमाचल प्रदेश में मौसम ने प्रदेश में मुसीबतों का पहाड़ खड़ा कर दिया है. प्रदेश में मौसम के कारण जान माल को भारी नुकसान हुआ है. करीब 100 लोगों ने इस मौसम में सर्दी के कारण मृत्यु का ग्रास बने बहीं करीब 127 करोड़ का भी नुकसान प्रदेश को उठाना प़डा है. 

प्रदेश में पिछले तीन दिनों से लगातार ऊंचाई वाले इलाकों में  बर्फबारी हो रही है और इस से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है.  प्रदेश में करीब 700 से ज्यादा सड़कें बंद पड़ी हुई हैं. इससे कांगड़ा, किन्नौर, लाहौल-स्पीति, चंबा किन्नौर, कुल्लू, शिमला और मंडी जिले के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में लोगों को परेशानी झेलनी पडी है. 

 पूरे प्रदेश में बिज़ली और पानी की समस्या पैदा हो गई है और लोग इससे बड़ी परेशानी में है.राजस्व विभाग के प्रधान सचिव और आपदा प्रबंधन का जिम्मा संभाल रहे ओंकार शर्मा के अनुसार प्रदेश में 2 हजार से ज्यादा बिजली के ट्रांसफार्मर ठप पड़े हैं. जिसके चलते उन इलाकों में अंधेरा छाया हुआ है और 200 से ज्यादा पेय जल योजनाएं प्रभावित हुई हैं.

 

हिमाचल प्रदेश में कई स्थानों पर सैकड़ों बस के रूट प्रभावित हैं और ज्यादा बर्फ बारी के कारण कई स्थानों पर बसों और लोगों और टूरिस्ट की गाड़ियां भी फंसी हुई हैं. मौसम विभाग के अनुसार 25 जनवरी तक प्रदेश में मौसम खराब रहेगा. मध्य पर्वतीय और ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी की संभावना जताई गई है. राजधानी शिमला में मुख्य सड़क को छोड़कर अधिकतर संपर्क मार्ग बंद पड़े हैं. प्रशासन सड़कों को खोलने के कार्य में जुटा हुआ है.

 

प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सभी विभागों को युद्ध स्तर पर काम करने को कहा है और आयी इंन समस्याओं को जल्दी हल करने को कहा है. 

 सीएम ने कहा कि मौसम के मिजाज को देखते हुए सभी जिलों के डीसी को अलर्ट पर रखा गया है. सीएम ने सैलानियों से खतरे वाले स्थानों पर न जाने की अपील की है.

 

 



Categories