आम आदमी की आर्थिक स्थिति दयनीय हो रही, सरकार संवेदनशीलता दिखाए: राजेंद्र राणा

हमीरपुर 26 मई - सुजानपुर के विधायक व प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राजेंद्र राणा ने कहा है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने आम आदमी की आर्थिक स्थिति को दयनीय बना दिया है और लोग अब रोजी रोटी के लिए भी मोहताज हो गए हैं परंतु सरकार की तरफ से इन लोगों को कोई राहत ना मिलने से इनमें निराशा व हताशा की स्थिति बनी हुई है। लिहाजा सरकार को पूरी संवेदनशीलता दिखानी चाहिए।

 

आज यहां जारी एक बयान में राजेंद्र राणा ने कहा कि जब पिछले साल कोरोना महामारी की पहली लहर आई थी, तब लोगों ने लॉकडाउन के दौरान अपना रोजगार खोने के बावजूद अपनी पिछली पाई -पाई करके जोड़ी बचत से ही परिवार का पालन पोषण किसी तरह से कर लिया था लेकिन महामारी की दूसरी लहर ने आम आदमी की आर्थिक स्थिति को पूरी तरह से पटरी से उतार दिया है और काम धंधे बंद होने की वजह से कई लोग निराशा में आकर अपनी जीवन लीला भी समाप्त कर चुके हैं। 

 

राजेंद्र राणा ने कहा कि आज चाहे छोटा दुकानदार हो , टेक्सी वाला हो, टेंट लगाने वाला हो, गांव में छोटा-मोटा सैलून चलाने वाला हो , शादियों में बैंड बजाने वाले हो , घोड़ी वाले हों या धाम बनाने का काम करने वाले हों, कई लोग रोजगार से हाथ धो बैठे, छोटे बड़े व्यपारियों पर बैंकों का खतरा मंडरा रहा है। हर वर्ग आज भुखमरी के कगार पर पहुंच गया है। इस कठिन समय में लोगों की जमा पूंजी खत्म हो चुकी है। लोग बैंक के कर्ज़ों की किस्ते नहीं भर पा रहे हैं । ऊपर से महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ कर रख दी है। 

 

राजेंद्र राणा ने कहा कि प्रदेश सरकार को तुरंत इन सभी वर्गों को राहत देने के लिए संवेदनशील रवैया अपनाना चाहिए और आम आदमी को कष्ट से उबारना चाहिए। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर से भी आग्रह किया कि वे इन सभी वर्गों के लिए राहत पैकेज का ऐलान करें और रोजगार गवा कर निराश बैठे लोगों के रोजगार की तुरंत व्यवस्था करें ताकि आम आदमी और गरीब आदमी के घर में चूल्हा जलता रहे।