किसान नेता हठधर्मिता छोड़ सरकार से सार्थक वार्ता करें: डॉ. चावला

किसान नेता हठधर्मिता छोड़ सरकार से सार्थक वार्ता करें: डॉ. चावला

अमृतसर, 27 जुलाई (राहुल सोनी ) पूर्व स्वास्थ्य मंत्री व वरिष्ठ भाजपा नेता डॉ. बलदेव राज चावला ने किसान यूनियन के सभी नेताओं से हठधर्मिता छोड़ केंद्र सरकार से सार्थक वार्ता करने की अपील की है। डॉ चावला ने मंगलवार को अपने कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उ कहा सविधान के जानकर भली-भांति जानते हैं कि संसद द्वारा पारित किए गए क़ानून रद्द करना असंभव है। उन्होंने कहाकि केंद्र सरकार से 12 बार किसान नेताओं की वार्ता हो चुकी है। स्वयं प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी ने भी किसानों से किसी भी समय संपर्क करने के लिए संदेश दिया हुआ है।
            डॉ. बलदेव राज चावला ने कहाकि भाजपा सरकार ने किसानों के हितों के लिए बहुत कार्य किए हैं। अज्ज सिर्फ राजनीतिक स्वार्थ और विपक्षी दलों के बहकावे में आकर किसान केंद्र सरकार का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहाकि हमारी सरकार नए पारित किए गए कृषि कानूनों में संशोधन करने के लिए किसी भी समय तैयार है। हमारी सरकार ने किसानों को सम्मान निधि योजना दी, नीम कोतिद यूरिया दिया, आज किसानों को MSP से ज्यादा कीमत मिल रही है। उन्होंने कहाकि लोकतंत्र में धरना-प्रदर्शन करने का सभी को मौलिक अधिकार है। उन्होंने कहाकि किसान एक कदम आगे बढ़ेंगे तो सरकार दो कदम आगे बढ़ेगी।
डॉ. बलदेव राज चावला ने कहाकि हमारी सरकार किसान का जीवन-स्तर ऊँचा उठाने तथा उन्हें आर्थिक दृष्टि से मज़बूत बनाने के लिए कार्य कर रही है। उन्होंने कहाकि लोकतंत्र में संवाद से सभी समस्याओं का हल संभव है। इस अवसर पर डॉ. राम चावला, राजेश कंधारी, संजय कुंद्रा आदि उपस्थित थे।