‘ओमिक्रॉन’ ( Corona) कोरोना का नया वेरिएंट, चिंताजनक स्तिथि

Breaking News

‘ओमिक्रॉन’ ( Corona) कोरोना का नया वेरिएंट, चिंताजनक स्तिथि

‘ओमिक्रॉन’ ( Corona) कोरोना का नया वेरिएंट है यह वेरिएंट डेल्टा से भी अधिक संक्रामक है और ये टीकों को भी चकमा दे सकता है.अभी तक की जानकारी के अनुसार B.1.1.529 में कई स्पाइक प्रोटीन म्यूटेशन हैं. शुरुआती विश्लेषण से पता चला है कि बहुत ही ज्यादा संक्रामक है. दक्षिण अफ्रीका में पिछले दो हफ्तों में नए मामलों में चार गुना वृद्धि दर्ज की गई है.NGS-SA का कहना है कि यह इम्यूनिटी को भी चकमा देकर संक्रमण बढ़ा सकता है.

कोविड-19 पर तकनीकी समूह का नेतृत्व करने वाली मारिया वान केरखोव ने इस बाबत कहा था, ‘हम अभी तक इसके बारे में बहुत कुछ नहीं जानते हैं. हम इतना ही जानते हैं कि कोरोना के इस वेरिएंट में बड़ी संख्या में उत्परिवर्तन हैं, जो एक चिंता का विषय है, क्योंकि जब इतने सारे उत्परिवर्तन होते हैं तो यह वायरस के व्यवहार पर प्रभाव पड़ सकता है. हमें यह समझने में कुछ सप्ताह समय लगेगा कि किसी भी महत्वपूर्ण टीके पर इस स्वरूप का क्या असर होगा.’  

 

सभी विशेषज्ञ संस्थाओं ने इस बात पर जोर दिया है कि टीकाकरण महत्वपूर्ण है. नए वेरिएंट का सामने आना यह बताता है कि महामारी खत्म नहीं हुई है. ऐसे में कोविड प्रोटोकॉल्स का पालन करना ज़रूरी है.

 

लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग (Social distancing) या सामाजिक दूरीकरण और ‘दो गज दूरी, मास्क है जरूरी’ के फॉर्मूले को लगातार अपनाना है होगा.

 

अभी हाल ही में विदेशों में कोविड के केसेज बढ़ रहे हैं. ये समस्या दोबारा न आए इसलिए मास्क और दो गज की दूरी अवश्य  रखनी होगी .