नगरोटा बगवां में पटाखों की बिक्री के लिए स्थान निर्धारित, हमीरपुर के मुख्य बाजार 3-4 नवंबर को बंद

नगरोटा बगवां में पटाखों की बिक्री के लिए स्थान निर्धारित, हमीरपुर के मुख्य बाजार 3-4 नवंबर को बंद

भीड़भाड़ वाले मुख्य बाजारों में पटाखे बेचने पर प्रतिबंध


हमीरपुर 28 नवंबर। दिवाली उत्सव के दौरान आग की दुर्घटनाएं रोकने के लिए जिलाधीश देबश्वेता बनिक ने जिला के भीड़भाड़ वाले मुख्य बाजारों में 2 से 4 नवंबर तक पटाखे बेचने या जमा करने पर प्रतिबंध लगाया है।


इस संबंध में आदेश जारी करते हुए देबश्वेता बनिक ने बताया कि 2 से 4 नवंबर तक हमीरपुर शहर में मिनी सचिवालय से अस्पताल तक और पैट्रोल पंप से भोटा चौक तक मुख्य बाजार में पटाखों की बिक्री या जमा करने पर प्रतिबंध रहेगा। इसी प्रकार मेन बाजार नादौन, सुजानपुर, भोटा, बड़सर, जाहू, भरेड़ी, भोरंज, गलोड़ और बिझड़ी के मुख्य बाजार में भी यह पाबंदी लागू रहेगी।


पटाखों की बिक्री के लिए एसडीएम द्वारा चिह्नित एवं अधिसूचित स्थानों पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा।
जिलाधीश ने बताया कि इस अवधि के दौरान केवल लाइसेंसधारक व्यापारी ही पटाखे बेच सकते हैं या जमा कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक पटाखे चलाने पर प्रतिबंध रहेगा।
125 डी.बी. से अधिक ध्वनि वाले पटाखों पर भी पाबंदी रहेगी।


जिलाधीश ने व्यापारियों तथा आम लोगों से इन सभी आदेशों की अक्षरश: पालन करने की अपील की है।

 


हमीरपुर के मुख्य बाजार में 3-4 नवंबर को बंद रहेगा यातायात


दिवाली के दौरान लोगों की सुरक्षा एवं सुविधा के मद्देनजर 3 और 4 नवंबर को हमीरपुर के मुख्य बाजार में गांधी चौक से अस्पताल चौक तक वाहनों की आवाजाही पूर्णतया बंद रहेगी।


 जिला दण्डाधिकारी देबश्वेता बनिक ने मोटर वाहन अधिनियम 1988 धारा 115 के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए यह आदेश जारी किया है।


उन्होंने कहा कि यह आदेश रोगी वाहन, कानून व्यवस्था से संबंधित वाहन, अग्नि शमन वाहन,दूध वाहन और कूड़ा कर्कट वाहनों पर लागू नहीं होंगा।  

 


 

नगरोटा बगवां में पटाखों की बिक्री के लिए स्थान निर्धारित

धर्मशाला, 28 अक्तूबर - एसडीएम नगरोटा बगवां शशी पाल नेगी ने जानकारी दी है कि दीपावली पर्व केे मद्देनजर किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से बचाव और जन सुरक्षा के लिए उपमंडल नगरोटा बगवां के अंतर्गत तहसील नगरोटा बगवां में पटाखों की ब्रिकी चिन्हित स्थान पर की जायेगी।  
उन्होंने बताया धारा 144 के अंतर्गत प्रदत शक्तियों का प्रयोग करते हुए इस संदर्भ में आदेश जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि पटाखों की ब्रिकी के लिए नगरोटा बगवां में नगर परिषद् के गांधी मैदान को चिन्हित किया गया है। उन्होंने बताया कि ध्वनि व पर्यावरण प्रदूषण को कम करने के लिए इस बार दीवाली में केवल हरे पटाखों का इस्तेमाल किया जा सकेगा।

एसडीएम ने बताया कि लाईसेंस एवं अनुमति प्राप्त पटाखा विक्रेता ही उक्त स्थान पर पटाखे बेच सकेगें। उन्होंने बताया कि पटाखों की बिक्री के लिए प्रातः 10 बजे से सायं आठ बजे तक का समय निर्धारित किया गया है।

नेगी ने बताया कि चिन्हित स्थानों के अतिरिक्त अन्य स्थानों पर पटाखों की बिक्री प्रतिबंधित रहेगी और इसकी अनुपालना न करने वालों के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। उन्होंने बताया कि पटाखे जलाने के लिए समय भी तय किया गया है और लोग रात आठ बजे से 10 बजे के बीच पटाखे जला सकेंगे। उन्होंने पटाखा विक्रेताओं को ग्राम पंचायतों में खुले स्थानों पर ही पटाखे बेचने के निर्देश दिए हैं.