कांग्रेस बताए, क्या लोगों की जान बचाना विफलता है - भाजपा

कोरोना कर्फ्यू पर कांग्रेस के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं – विनोद ठाकुर

देशभर में हारी हुई कांग्रेस के शब्दकोष में विफलता ही एक शब्द बचा है

 

शिमला – प्रदेश भाजपा प्रवक्ता विनोद ठाकुर ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर का कोरोना कर्फ्यू को विफल कहना उन सभी फ्रंटल योद्धाओं का अपमान है जिन्होंने अपनी जान की परवाह किए बिना लाखों जिंदगियों को इस महामारी से बचाया है। हजारों लोगों की सेवा कर उन्हें स्वास्थ्य लाभ पहुंचाया है। क्या कांग्रेस लाशों का ढेर देख कर खुश होती है ? कर्फ्यू ने लाखों लोगों की जान बचाने का काम किया है यह कांग्रेस को रास नहीं आ रहा । कोरोना कर्फ्यू की सफलता पर भाजपा को कांग्रेस नेताओं के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। जनता का विश्वास ही भाजपा की ताकत है। विनोद ठाकुर ने यहां जारी प्रेस विज्ञप्ति में यह प्रतिक्रया दी है। 

 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस देशभर में अपनी पार्टी की विफलता से इतना बौखला चुकी है कि विफलता शब्द उनके शब्दकोश में रच-बस गया है। उसके अलावा न वह कुछ बोल पाते हैं, न ही समझ पाते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष हिमाचल प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू को तो विफल मानते हैं, लेकिन महाराष्ट्र, पंजाब और राजस्थान जहां कांग्रेस या उनकी समर्थित सरकारें हैं, में हो रही हजारों मौतें को वे क्या मानते हैं विफलता या सफलता। मौतों पर वोट की राजनीति की कांग्रेस की यह काफी पुरानी आदत है। इसलिए जनता इनकी ऐसी बातों को गंभीरता से नहीं लेती।

 

उन्होंने कांग्रेस को नसीहत दी कि वातानुकूलित कमरों से बाहर निकल धरातल पर उतरिए। आपको हकीकत नजर आएगी। जयराम सरकार प्रदेश के कोरोना योद्धाओं के सहयोग और जनता के विश्वास के साथ जानें बचाने में कामयाब हुए हैं। सिर्फ बयानबाजी से किसी भी प्रयास का आंकलन करना कांग्रेस को शोभा नहीं देता। यह व्यवस्था और प्रदेश के कर्मठ कर्मचारियों का अपमान है।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से प्रदेश के लोगों की रक्षा के लिए जयराम सरकार ने जो भी प्रयास किए, जनता को उनपर पूरा भरोसा रहा है। जनता का पूरा समर्थन और सहयोग सरकार को मिला है। हालात में परिवर्तन आने पर सरकार ने हर वर्ग को कर्फ्यू में राहत देने की रूपरेखा तय कर दी है। 31 मई से यह कार्यान्वित भी होने लगेगी