संक्रमितों की मदद को 24 घंटें तत्पर कोविड सेवियर्स

पालमपुर, ज्वाली, शाहपुर, नगरोटा, धर्मशाला में 40 वालंटियर्स दे रहे सेवाएं, 

 

150 रोगियों को आक्सीमीटर उपलब्ध करवाए, कंस्ट्रेटर भी व्यवस्था भी की

होम आईसोलेशन के रोगियों को भोजन भी करवा रहे उपलब्ध

 

धर्मशाला, 30 मई। होम आईसोलेशन में कोविड रोगियों की मदद के लिए कोविड सेवियर्स के वालंटियर्स 24 घंटें अपनी सेवाएं दे रहे हैं। कोरोना संक्रमितों को राशन पहुंचाने से लेकर आक्सीमीटर तथा आवश्यक दवाइयों की व्यवस्था भी इस संस्था के माध्यम से की जा रही है। यही नहीं देर रात तक कोरोना संक्रमितों को अस्पताल शिफ्ट करने के लिए एंबुलेंस मुहैया करवाने का जिम्मा भी कोविड सेवियर्स ने उठाया है।
    कांगड़ा जिला के शाहपुर, ज्वाली, नगरोटा पालमपुर में कोविड सेवियर्स के करीब 40 वालंटियर्स अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं।  अपने संसाधनों से 8 के करीब आक्सीजन कंस्ट्रेटर भी खरीदे हैं जिनमें से पांच कंस्ट्रेटर कोरोना संक्रमितों के लिए उपलब्ध करवाए गए हैं। कोविड सेवियर्स संस्था के समन्वयक शाश्वत कपूर ने बताया कि उपमंडल प्रशासन के साथ सीधे संपर्क के साथ होम आईसोलेशन के रोगियों की सूची प्राप्त करते हैं इसके पश्चात कोविड सेवियर्स के सदस्य कोविड रोगियों के साथ संपर्क साधते हैं और उनकी देखभाल सुनिश्चित करते हैं। कई लोगों को दिन में दो समय के भोजन की व्यवस्था के साथ साथ आवश्यक दवाइयां भी उनके घर द्वार पर पहुंचाई जाती हैं।
   संस्था द्वारा यह कार्य पिछले एक वर्ष से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अब तक दो सौ से ज्यादा होम आईसोलेशन में कोविड संक्रमितों को क्वारंटीन समयावधि तक भोजन की व्यवस्था उनके माध्यम से की गई है इसके साथ ही 110 के करीब कोविड संक्रमितों को आवश्यक दवाइयां कोविड सेवियर्स के वालंटियर्स द्वारा उपलब्ध करवाई गई हैं।
    150 के करीब कोविड संक्रमितों को आक्सीमीटर दिए गए हैं। संस्था के माध्यम से आठ आक्सीजन कंस्ट्रेटर भी एकत्रित किए गए हैं जिनमें से पांच कोविड संक्रमितों को दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कई बार होम आईसोलेशन के रोगियों को देररात तबीयत इत्यादि खराब होने पर स्वास्थ्य विभाग तथा प्रशासन के माध्यम से सूचित कर एंबुलेंस के माध्यम से अस्पताल में शिफ्ट करवाने की जिम्मेदारी भी निभाई जाती है। उन्होंने बताया कि कोविड सेवियर्स दिन के वालंटियर्स एक दिन में पचास के करीब कोरोना संक्रमितों के साथ सीधा संपर्क साधते हैं और उनकी दवाई, भोजन इत्यादि की आवश्यकता को पूरा करने के लिए कारगर कदम उठाए जाते हैं। उन्होंने कहा कि कोविड सेवियर्स को प्रशासन का भी इस कार्य में पूरा सहयोग मिल रहा है।