ठप्प कारोबार से परेशान व नौकरियां गंवा चुके लोगों की सोचे सरकार : राणा 

ठप्प कारोबार से परेशान व नौकरियां गंवा चुके लोगों की सोचे सरकार : राणा 

कहा : ऐसे वर्गों की देश के कई राज्यों की सरकार कर रही मदद, हिमाचल सरकार भी दिल से मदद को आगे आए 

 

हमीरपुर, 31 मई : प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष व सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने प्रदेश सरकार से आग्रह किया है कि कोरोना महामारी के कारण कई लोगों के कारोबार तबाह हो गए, तो कईयों की नौकरियां चली गई और कई लोग कर्जे की लपेट में आने से मानसिक तनाव से गुजर रहे हैं। ऐसे में सरकार उनकी मदद के लिए सकारात्मक कठम उठाते हुए आगे आए। समाज के कई वर्ग ऐसे हैं जोकि सड़कों पर आ गए है। सरकार को अपना मन खोलकर दिल से मदद करने को आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश के हजारों लोग जो बैंकों से कर्जा उठाकर कोई टैक्सी चलाकर परिवार का गुजारा कर रहा था, कोई छोटा टैम्पू तो कोई बस ऑपरेटर बन कर अपना काम कर रहा था, ऐसे बहुत सारे लोग हैं, जिनका कारोबार महामारी के इस दौर में तबाह हो गए हैं, जोकि बैंकों की किस्त तक नहीं दे पा रहे हैं। सरकार को उन सभी लोगों की मदद के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में इनकी गाड़ियां तक नहीं चली, ऐसे में सरकार इनका टैक्स माफ करे और जैसे कई राज्यों में छोटे ट्रांसपोर्टरों की सरकारों ने आर्थिक मदद का ऐलान कर उनकी मदद की, वैसे ही हिमाचल सरकार को भी इनकी मदद के लिए आगे आना चाहिए।

राजेंद्र राणा ने कहा कि भाजपा सरकार इस महामारी को मैनेज करने में पूरी तरह से असफल रही। नतीजन लोगों के कारोबार तबाह हो गए, बेरोजगारी और बढ़ गई और देश की अर्थव्यवस्था भी पूरी तरह तबाह हो गई। उन्होंने कहा कि ऐसे हालातों में सरकार को ऐसे सभी वर्गों की मदद करनी चाहिए, जोकि इस महामारी के कारण तबाह हुए हैं, ताकि देश की अर्थव्यवस्था फिर से पटरी पर आ सके। उन्होंने कहा कि आज देश की जनता महंगाई से तंग आ चुकी है और सरकार उसे रोकने में पूरी तरह विफल रही है। यहां तक कि सरसों का तेल 200 रुपए पहुंच गया जिसकी जनता ने कभी कल्पना नहीं की थी तो पैट्रोल पहले ही आसमान छू रहा है।